पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला:छत्तीसगढ़ के लॉकडाउन वाले शहरों-गांवों के मोहल्लों में फल-सब्जियों की फेरी लगाने की मिलेगी अनुमति, मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों को दिये निर्देश

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर में 9 अप्रैल से से लॉकडाउन लागू है। इस दौरान सब्जी की दुकानें तक बंद करा दी गई है। इसकी वजह से सब्जी और फल उत्पादक किसानों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। - Dainik Bhaskar
रायपुर में 9 अप्रैल से से लॉकडाउन लागू है। इस दौरान सब्जी की दुकानें तक बंद करा दी गई है। इसकी वजह से सब्जी और फल उत्पादक किसानों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

लॉकडाउन के दौरान गांवों-शहरों में फल और सब्जी की फेरी लगाने की अनुमति जल्दी ही मिल सकती है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला कलेक्टरों को फल और सब्जी की घर-घर आपूर्ति करने की अनुमति देने का निर्देश दिया है। जिन जिलों में लॉकडाउन लगा है अभी वहां पेट्रोल पम्प, मेडिकल स्टोर को ही अनुमति है। रसोई गैस और दूध की घर पहुंच सेवा के लिये सीमित अवधि निर्धारित की गई है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लॉकडाउन अवधि में पेट्रोल पम्प, दवाई दुकान, रसोई गैस एजेंसी, हॉस्पिटल एवं पशुओं के आहार से संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति देने को कहा है। उन्होंने कहा है, गांवों में सब्जी एवं फल की खेती करने वाले किसान अगर शहर आकर कॉलोनियों एवं मोहल्लों में सब्जी और फल बेचना चाहते हैं तो उन्हें भी इसकी अनुमति दिए जाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है, लॉकडाउन की अवधि में कोई भी सब्जी और फल की दुकान नहीं खुलेगी। सब्जी-फल उत्पादक किसानों से सीधे सब्जी-भाजी, फल क्रय कर स्ट्रीट वेन्डर उन्हें कालोनियों, गली-मोहल्लों में घर-घर जाकर बेच सकेंगे। प्रदेश में इस बार जिन जिलों में लॉकडाउन लगा है वहां सब्जी और फलों की दुकानें भी बंद करा दी गई हैं। लोगों को ताजी-फल सब्जी नहीं मिल पा रही है। वहीं सब्जी और फल उगाने वाले किसानों को भी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उम्मीद की जा रही है कि नया आदेश आने के बाद सभी को राहत मिलेगी।

बैंक खुलेंगे लेकिन पब्लिक डीलिंग नहीं होगी

मुख्यमंत्री ने कहा है, लॉकडाउन के अवधि में बैंक खोलने की अनुमति सिर्फ इस शर्त पर दी गई है कि बैंक के अधिकारी-कर्मचारी बैंकिंग सेवा से संबंधित कार्याें का निष्पादन कर सकेंगे। यहां बैंक पब्लिक डिलिंग की अनुमति नहीं होगी। ATM को चौबीस घंटे सक्रिय रखने के लिए बैंक से राशि निकालकर ATM में फीड की जा सकेगी।

सेवानिवृत्त डॉक्टरों-नर्सिंग स्टाफ की होगी संविदा भर्ती

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य में कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति को देखते हुए जिलों में स्थापित डेडिकेटेड हॉस्पिटल, कोविड केयर सेंटर में काम करने के लिये सेवानिवृत्त डॉक्टरों, निजी चिकित्सकों, नर्स तथा पैरामेडिकल स्टाफ की संविदा भर्ती के निर्देश दिए हैं। यह संविदा भर्ती तीन महीने अथवा अधिकतम कोविड संक्रमण अवधि तक के लिए होगी। नियुक्त चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ को संविदा दर के अनुसार मानदेय का भुगतान DMF Fund से किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...