पं. जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम:शिक्षा समागम में कोरोना काल में पढ़ाई का प्रेजेंटेशन

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी में पं. जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम 14 एवं 15 नवम्बर को साइंस कॉलेज आडिटोरियम में होगा। इसमें स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न राज्यों में किए जा रहे नवाचारों को साझा किया जाएगा। रेमेजिंग स्कूल ऑफ टूमारो, वोकेशनल एजुकेशन एण्ड इंटरप्रिन्योरशिप माइंडसेट फॉर 21 वीं सेंचुरी, फ्यूचर ऑफ ऑनलाइन लर्निंग बिल्डिंग बैक बेटर लेसन फ्रॉम द पेंडमिक, टीचर्स एज लीडर्स, गवर्नेंस रिफार्म एट स्केल आदि विषयों पर प्रस्तुतिकरण होगा।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के नवाचारी कार्यक्रमों पर केंद्रित प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इसमें शिक्षा पर नवाचारों का प्रदर्शन किया जाएगा। राज्यों के शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले नवाचारी शिक्षकों को छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आमंत्रित किया गया है। वे अपने राज्यों के नवाचारी मॉडल प्रदर्शित करेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने एससीईआरटी में कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा की।

डॉ. सिंह ने प्रशासनिक व अकादमिक कार्य व समागम का संचालन करने कार्यक्रम प्रभारी अधिकारी केसी काबरा, डॉ. एम. सुधीश और अशोक बंजारा को जिम्मेदारी दी है। शिक्षा समागम में अन्य राज्यों से आए शिक्षाविद कोरोनाकाल में प्रदेश में अध्ययन-अध्यापन की व्यवस्था को बनाए रखने के लिए किए गए नवाचारों को साझा करेंगे। पण्डित जवाहर लाल नेहरू नेशनल एजुकेशन कॉन्क्लेव में कई राज्यों के शिक्षाविद व शिक्षक गुणात्मक शिक्षा के लिए अपनाए जा रहे नवाचारों का प्रस्तुतिकरण देंगे।

खबरें और भी हैं...