पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छत्तीसगढ़ में कोरोना:15 हजार नए मरीज मिले, पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक 266 मौतें; बेड नहीं देने वाले दो प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस जारी

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर दंतेवाड़ा की है। जिले में 18+ वैक्सीनेशन अब शुरू कर दिया गया है। - Dainik Bhaskar
तस्वीर दंतेवाड़ा की है। जिले में 18+ वैक्सीनेशन अब शुरू कर दिया गया है।

छत्तीसगढ़ में सोमवार की रात जारी सरकार की तरफ से आंकड़ों की मानें तो सिर्फ 24 घंटों में 266 संक्रमितों की मौत हो गई। एक्सपर्ट्स के मुताबिक ये एक साथ मौतों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। प्रदेश के अब तक प्रदेश में 9 हजार 275 संक्रमित लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश में 15 हजार 274 नए कोरोना संक्रमित मिले। अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 1 लाख 20 हजार 977 हो चुकी है। राज्य में 58 हजार 493 सैंपल जांचे गए। ठीक होने वालों की संख्या 14 हजार 376 रही।

इन प्रमुख शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 1102 नए मरीज मिले हैं। 63 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में एक्टिव मरीज 10 हजार 354 है। दुर्ग में 931 नए मरीज, 33 लोगों की जान गई अब यहां एक्टिव मरीज 4190 हैं। बिलासपुर में 1014 नए मरीज मिले, 15 लोगों की मौत हुई। अब यहां एक्टिव मरीज 7597 हैं। राजनांदगांव में 583 नए मरीज मिले, 11 लोगों की मौत हुई। यहां एक्टिव केस 7515 हैं। रायगढ़ में 1182 नए मरीज मिले, 20 लोगों की मौत हुई है। अब एक्टिव केस 10149 हैं। कोरबा में 1223 लोग संक्रमित हुए, 15 लोगों की मौत हुई। अब यहां 8395 एक्टिव मरीज हैं। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सबसे कम 26 मरीज मिले यहां 222 एक्टिव मरीज हैं।

राजधानी के दो प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस
रायपुर के श्री बालाजी और हैरीटेज नाम के दो प्राइवेट असप्तालों को नोटिस जारी किया गया है। दरअसल सरकारी पोर्टल में इन अस्पतालों में बेड खाली दिखाया जा रहा था, मगर मरीजों के संपर्क करने पर उन्हें भर्ती करने से ये कहकर मना किया गया कि बेड नहीं है। ये शिकायत अफसरों तक आई तो अस्पतालों से अब इस मामले में जवाब देने नोटिस भेजा गया है। दरअसल प्रदेश सरकार के मुताबिक अब खाली बेड होने के बाद भी अगर किसी कोविड मरीज को बेड देने से अस्पताल ने ना नुकुर की तो कार्रवाई होगी। निगरानी के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी स्तर के अफसरों के 5 दल बनेंगे। ये अस्पताल में जाकर देखेंगे कि वेबसाइट पर दिख रहे खाली बेड मिल रहे हैं या नहीं। अगर कोई अस्पताल मनमानी करता मिला तो उसके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...