रायपुर में 4 दिन में 436 केस:कलेक्टर ने पुलिस और निगम के अफसरों से कहा- जो बिना मास्क दिखे कार्रवाई करें

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर कलेक्टर ने पुलिस और नगर निगम अफसरों की बैठक ली। - Dainik Bhaskar
रायपुर कलेक्टर ने पुलिस और नगर निगम अफसरों की बैठक ली।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर कोविड का नया हॉटस्पॉट बनकर उभरी है। सिर्फ 4 दिनों में यहां 436 नए मरीज मिले हैं। हर दिन मिलने वाले मरीजों की संख्या अचानक बढ़ने की वजह से अब जिला प्रशासन एक्शन मोड में आ चुका है। रायपुर के कलेक्टर ने फौरन एक आपात बैठक बुलाई। अब उन्होंने रायपुर के पुलिस और निगम के कर्मचारियों से कह दिया है कि जो बिना मास्क के दिखे उस पर कार्रवाई करें। लोगों से फाइन वसूला जाएगा।

कलेक्टर ने अफसरों से भी कह दिया है कि काम में कोई लापरवाही नहीं चलेगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि सौंपे गए कार्य को जिम्मेदारीपूर्वक करें। उन्होंने प्रतिदिन कम से कम 4 हजार से अधिक लोगों का कोरोना जांच करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने जरूरत पड़ने पर तत्काल माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने को भी कहा है।

हर दिन 4 हजार लोगों की जांच हो
कलेक्टर की इस बैठक में हर दिन कम से कम 4 हजार से अधिक लोगों की जांच कराने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों से कहा गया है कि शासकीय अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट, विदेशों से आने वाले लोगों की टेस्टिंग- आइसोलेशन, संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की ट्रेसिंग, अस्पतालों में बैड और दवाइयां है या नहीं ये देखकर रिपोर्ट भेजें। जहां जरूरी हो वहां फौरन इंतजाम करें। कलेक्टर ने कुछ प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस जारी करने को कहा है, जिनकी तरफ से बेड की जानकारी नहीं मिली है।

रायपुर में 4 दिन में सिरदर्द बना कोरोना
बीते शुक्रवार को रायपुर में 51, शनिवार को 73, रविवार को 90 और सोमवार रात तक 222 कोविड संक्रमितों की पहचान एक दिन में हुई है। 4 दिन में कुल 436 मरीजों के मिलने से अब तक ठंडा पड़ा कोविड संक्रमण, ठंड के इस मौसम में शहर का हॉट इश्यू बन चुका है। प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 698 नए संक्रमितों की पुष्टि हुई है। राहत की बात ये है कि प्रदेश में आज कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई है। नए मरीजों की पुष्टि के बाद प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 1942 हो गई है।

खबरें और भी हैं...