धमाके की आवाज से दहला गांव:गैस सिलेंडर फटने से पूरा मकान खाक; झुलसे व्यक्ति को पुलिस ने पहुंचाया अस्पताल, दो अन्य घायल

रायपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर कुरा गांव की है। लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के संकट के बीच ग्रामीणों पर ये नई आफत आ गई, पूरा घर तबाह हो गया। - Dainik Bhaskar
तस्वीर कुरा गांव की है। लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के संकट के बीच ग्रामीणों पर ये नई आफत आ गई, पूरा घर तबाह हो गया।

रायपुर के धरसींवा इलाके में शुक्रवार को बड़ा हादसा हो गया। इस इलाके के कुरा गांव के एक मकान में सुबह करीब 10 बजे गैस सिलेंडर फट गया। ब्लास्ट की वजह से पूरा गांव दहल गया। लोग हड़बड़ा कर अपने-अपने घरों से बाहर आए तो देखा मकान बड़ी-बड़ी लपटों से घिरा हुआ है। कच्चे मकान की छत पूरी तरह से जल गई। अंदर रखी मोपेड और दूसरा सामान भी खाक हो गया।

धमाके और आग की वजह से ये हुआ हाल।
धमाके और आग की वजह से ये हुआ हाल।

गांव वालों ने फौरन फायर ब्रिगेड और पुलिस को इसकी जानकारी दी। रायपुर से रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची। करीब 2 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद आग पर काबू पा लिया गया है। फायर फाइटर्स की टीम के वाई स्टीफन, जितेन्द्र यादव, पेनु राम मंडावी, नीलेश कुमार ने पानी की तेज बौछार से आग बुझाई। घर का सामान बाहर निकाला। धरसींवा पुलिस भी मौके पर पहुंच चुकी थी।

मकान में भभकी लपटों की वजह से वक्त भी थम गया।
मकान में भभकी लपटों की वजह से वक्त भी थम गया।

एक व्यक्ति झुलसा, दो अन्य घायल
पुलिस के मुताबिक मकान में रहने वाला एक व्यक्ति इस हादसे में झुलस गया है, जिसे पुलिस पेट्रोलिंग वैन से अंबेडकर अस्पताल भेजा गया है। दो और लोगों को भी चोट आने की खबर मिली है। सिलेंडर में धमाका कैसे हुआ ये पता नहीं चल सका है। ये मकान गांव से आउटर पर स्थित था, इसके आस-पास ज्यादा मकान नहीं थे। फायर फाइटिंग के दौरान इस इलाके की बिजली काट दी गई है, लपटें शांत हुई तो काफी देर तक धधकते मकान पर रेस्क्यू टीम से पानी की बौछार डालकर इसे ठंडा किया।

खबरें और भी हैं...