कांग्रेसियों को अपनी अनदेखी पर गुस्सा:भाजपा नेताओं के साथ कार्यक्रमों में गईं निर्मला सीतारमण; ढेबर बोले- महापौर को आमंत्रित तक नहीं किया, क्या वो BJP की वित्त मंत्री हैं, देश की नहीं

रायपुर4 महीने पहले
भाजपा के प्रदेश कार्यालय में वित्त मंत्री।

रायपुर में केंद्रीय वित्त मंत्री ने निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। सारा दिन एयरपोर्ट से लेकर अपने आखिरी कार्यक्रम तक वित्त मंत्री भाजपा नेताओं से घिरी रहीं। कार्यक्रमों में कांग्रेसियों की अनदेखी की वजह से शहर के महापौर एजाज ढेबर का गुस्सा फूटा। खुले तौर पर मीडिया में सामने आकर ढेबर ने कहा कि केंद्रीय मंत्री के कार्यक्रम में प्रोटोकॉल का उल्लंघन हुआ है। शहर का प्रथम नागरिक महापौर होता है और मुझे ही आमंत्रित नहीं किया गया। मैं पूछना चाहता हूं क्या वे सिर्फ भाजपा की वित्त मंत्री हैं, देश की नहीं?

महापौर ने कहा कि प्रोटोकॉल के मुताबिक उन्हें बुलाया जाना था।
महापौर ने कहा कि प्रोटोकॉल के मुताबिक उन्हें बुलाया जाना था।

ढेबर ने कहा कि इससे पहले भी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्रियों का दौरा हो चुका है। हमेशा महापौर उनकी अगवानी करते हैं। स्वागत करते हैं। मगर इस बार किसी भी कार्यक्रम में कोई निमंत्रण हमें नहीं दिया गया। कांग्रेस के किसी पार्षद को नहीं बुलाया गया, जबकि नगर निगम इलाके में वित्त मंत्री के कई कार्यक्रम आयोजित हुए। भारतीय जनता पार्टी ने यह दिखाने का प्रयास किया है कि निर्मला सीतारमण देश की नहीं भाजपा की वित्त मंत्री हैं।

वित्त मंत्री को ज्ञापन सौंपने का था प्लान
ढेबर ने कहा कि वित्त मंत्री से सभी कांग्रेस नेता मुलाकात करना चाहते थे। उनका स्वागत करना चाहते थे। इस दौरान हम उन्हें एक ज्ञापन भी सौंपना चाहते थे, जिसमें हम उनसे पूछते कि आखिर देश में महंगाई कब कम होगी, पेट्रोल- डीजल के दामों पर नियंत्रण कैसे लगेगा, जीएसटी में छत्तीसगढ़ राज्य का बकाया पैसा प्रदेश को कब मिलेगा, रोजगार के हालात कब सुधरेंगे, मगर हमें उनसे नहीं मिलने दिया गया।

पूर्व मंत्री मूणत ने केंद्रीय मंत्री को प्रदेश कार्यालय दिखाया।
पूर्व मंत्री मूणत ने केंद्रीय मंत्री को प्रदेश कार्यालय दिखाया।

भाजपा कार्यालय देखकर वित्त मंत्री बोली वेरी नाइस
पहली बार छत्तीसगढ़ आईं देश के निर्मला सीतारमण को पूर्व मंत्री राजेश मूणत, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने माना स्थित भाजपा के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे का भ्रमण भी करवाया। इस दौरान उन्होंने कुशाभाऊ ठाकरे भवन के इंटीरियर की काफी तारीफ की। इमारत को देखकर सीतारमण ने कहा कि वेरी नाइस। इसके बाद वह अपने तय कार्यक्रमों के लिए ठाकरे परिसर से भाठागांव के लिए रवाना हो गईं।

वित्तमंत्री बोलीं, बघेल को कुर्सी की चिंता:रायपुर में निर्मला सीतारमण ने कहा- जनता सेवा के लिए पद मिला, वह भगवान से पोजीशन बचाने की प्रार्थना कर रहे; माना- महंगाई से लोग परेशान

सीतामरण ने प्रदेश कार्यालय की बनावट को सराहा।
सीतामरण ने प्रदेश कार्यालय की बनावट को सराहा।

भाठागांव के स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर वित्त मंत्री ने वैक्सीनेशन की जानकारी ली और इसके बाद यहां मौजूद मेडिकल स्टाफ के साथ मिलकर पौध रोपण भी किया। इस कार्यक्रम के बाद निर्मला सीतारमण टाउन हॉल पहुंची, जहां भारतीय जनता युवा मोर्चा की तरफ से आयोजित रक्तदान शिविर में उन्होंने युवा कार्यकर्ताओं को ब्लड डोनेशन का सर्टिफिकेट दिया। शाम होते-होते निर्मला सीतारमण का एक कार्यक्रम रायपुर के तेलीबांधा तालाब के पास भी किया गया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने आम लोगों को जल संरक्षण की शपथ भी दिलाई।

मेडिकल स्टाफ से मिलीं वित्त मंत्री।
मेडिकल स्टाफ से मिलीं वित्त मंत्री।
खबरें और भी हैं...