एक हफ्ते में मिले 469 में से 416 मरीज स्वस्थ:पहले दो हफ्ते में ठीक होने वाले 5-7 दिन में ही ठीक, खर्च में कमी

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर में 1185 समेत प्रदेश में 4120 नए केस, 4 मौतें भी  - Dainik Bhaskar
रायपुर में 1185 समेत प्रदेश में 4120 नए केस, 4 मौतें भी 

प्रदेश में सोमवार को कोरोना के 4120 नए केस मिले हैं। इनमें रायपुर के 1185 मरीज शामिल हैं। पिछले 24 घंटे में 4 मौतें हुई हैं। वहीं, रायगढ़ में एससीसीएल के दो दिन में 40 से अधिक पॉजिटिव मिले हैं। इस बीच, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राहत भरी खबर मिली है। दरअसल, पिछली दो लहरों की तुलना में कोरोना के मरीज अब केवल एक हफ्ते में ही स्वस्थ हो रहे हैं।

पहले कोरोना मरीजों को होम आइसोलेशन या अस्पताल से दस से 14 दिन बाद ही डिस्चार्ज किया जा रहा था। अब ये अवधि घटाकर 7 दिन ही कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग ने ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल जारी कर दिया है। सभी जिलों में आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने के लिए कहा गया है। इसकी रिपोर्ट मिलने में एक से दो दिन या कहीं कहीं तीन दिन तक का वक्त भी लग रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने होम आइसोलेशन मरीजों के लिए जो गाइडलाइन जारी की है, उसमें अब केवल उन्हीं मरीजों को 10 दिन तक घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है जिन्हें सात दिन की अवधि गुजरने के बाद भी बुखार आ रहा है। इतना ही नहीं, पिछले एक हफ्ते मिले 469 में से 416 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें से 305 मरीज ऐसे हैं जिन्होंने घर में ही रहकर कोरोना को हराया, जबकि 111 से मरीज अस्पताल में इलाज करवाने के बाद स्वस्थ हुए हैं। पिछली दो लहरों की तुलना में दवाओं और दूसरे सामान के लिए मरीजों का खर्च पहले की तुलना में काफी कम आ रहा है। हालांकि कोरोना जांच रिपोर्ट मिलने में लोगों को एक से दो दिन तक का इंतजार करना पड़ रहा है।

38 हजार के औसत से हो रही हर दिन कोरोना जांच
प्रदेश में बीते एक हफ्ते में 2.72 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट हुए हैं। हर दिन हो रही जांच का औसत अब 38 हजार टेस्ट प्रतिदिन आ गया है। दिसंबर के आखिरी हफ्ते में कोरोना जांच का औसत हर दिन 20 हजार के लगभग था, जिसमें अब 18 हजार की बढ़ोतरी हो गई है। हर दिन हो रही जांच में औसतन 70 फीसदी टेस्ट आरटीपीसीआर के जरिए हो रहे हैं।

खबरें और भी हैं...