बुकिंग कम रिफंड ज्यादा / रिजर्वेशन करवाया 102 ने ‌77 लाख के टिकट कैंसिल

ये तस्वीर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर रेलवे स्टेशन की है। रिजर्वेशन काउंटर खुलने के साथ ही लोग एक बार फिर वहां पहुंच गए हैं। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है। ये तस्वीर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर रेलवे स्टेशन की है। रिजर्वेशन काउंटर खुलने के साथ ही लोग एक बार फिर वहां पहुंच गए हैं। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है।
X
ये तस्वीर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर रेलवे स्टेशन की है। रिजर्वेशन काउंटर खुलने के साथ ही लोग एक बार फिर वहां पहुंच गए हैं। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है।ये तस्वीर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर रेलवे स्टेशन की है। रिजर्वेशन काउंटर खुलने के साथ ही लोग एक बार फिर वहां पहुंच गए हैं। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा है।

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 07:06 AM IST

रायपुर. फ्लाइट में भले ही सामान्य दिन की तरह टिकट बुकिंग शुरू हो गई, लेकिन ट्रेनों का मामला कुछ उल्टा चल रहा है। राजधानी में रिजर्वेशन काउंटर चालू किए गए हैं, लेकिन इनमें टिकट लेने वालों के बजाय कैंसिल करवाने वालों की भीड़ कई गुना है। पिछले दो दिन में सिर्फ रायपुर मंडल में 77 लाख रुपए के टिकट कैंसिल हुए हैं। जबकि शुक्रवार को मेन स्टेशन के रिजर्वेशन काउंटर से केवल 90 और शनिवार को तो सिर्फ 13 लोगों ने ही टिकट रिजर्व करवाए हैं। शुक्रवार को टिकट काउंटर खुलने के साथ ही यात्रियों ने 1 जून से शुरू होने वाली ट्रेनों का टिकट बुक करना शुरू किया और पहले दिन रायपुर में 89 टिकट बुक भी हुए पर शनिवार को यह संख्या घटकर मात्र 13 हो गई। उसकी विपरीत, शुक्रवार तो 3200 टिकट कैंसिल हुए तो शनिवार को 8162 टिकट लोगों ने कैंसिल करवा दिए।

टिकट कैंसिल करनेवालों की संख्या इतनी अधिक है कि रेलवे प्रशासन को आरक्षण केंद्रों पर अतिरिक्त सुरक्षा इंतजाम करने पड़ रहे हैं। दरअसल लॉकडाउन के दौरान जो ट्रेनें रद्द हुई थीं, उनके टिकट कैंसिल करवाने लोग पहुंच रहे हैं। लॉकडाउन में स्टेशनों का पीआरएस काउंटर भी बंद था। कैंसिलेशन अब शुरू हुआ है और रेलवे पूरा किराया लौटा रहा है।

एक जून से चलने वाली ट्रेनों में नहीं मिलेगा तत्काल टिकट जनरल काेच में भी आरक्षण

एक जून से ट्रेन शुरू करने के साथ ही रेलवे प्रशासन ने कई नए नियम लागू कर दिए हैं। नए नियम में फिलहाल तत्काल टिकट की सुविधा खत्म कर दी गई है। हालांकि कन्फर्म टिकट के बाद वेटिंग टिकट बुक होगा, लेकिन चार्ट बनने के बाद भी टिकट कन्फर्म नहीं हुआ तो ऐसे यात्री ट्रेन में सफर नहीं कर पाएंगे। जनरल कोच में सफर करने वाले यात्रियों को भी सीटें पहले से बुक करानी पड़ेगी। जनरल डिब्बे को 2-एस का नाम दिया गया है। इन डिब्बों में सीट से एक भी ज्यादा टिकट की बुकिंग नहीं होगी और इसमें वेटिंग टिकट भी नहीं मिलेगा।
"यात्रियों को तत्काल टिकट की सुविधा नहीं होगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए रेलवे ने कई नए नियम-शर्तों को लागू किया है, जिसका पालन करना अनिवार्य होगा।"
-तन्मय मुखोपाध्याय, सीनियर डीसीएम, रायपुर


आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना