आज से धौरपुर में SDM कार्यालय:स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव करेंगे लोकार्पण, राजनांदगांव जिले में साल्हेवारा अब नई तहसील

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 11 मई को लुण्ड्रा विधानसभा में नए एसडीएम कार्यालय की घोषणा की थी। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 11 मई को लुण्ड्रा विधानसभा में नए एसडीएम कार्यालय की घोषणा की थी।

छत्तीसगढ़ में प्रशासनिक ढा़ंचे के विकेंद्रीकरण का काम जारी है। मंगलवार को सरगुजा जिले के धौरपुर में नया एसडीएम कार्यालय शुरू हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव इसका लोकार्पण करने वाले हैं। इस बीच सरकार ने राजनांदगांव में एक नई तहसील साल्हेवारा के गठन की अधिसूचना जारी की है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लुंड्रा विधानसभा क्षेत्र के सहनपुर में 11 मई को आयोजित भेंट- मुलाकात कार्यक्रम के दौरान धौरपुर में एसडीएम कार्यालय खोलने की घोषणा की थी। उसके बाद से प्रशासनिक तैयारी जारी थी। सरगुजा कलेक्टर कुन्दन कुमार की ओर से बताया गया, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व (SDM) का कार्यालय धौरपुर में शुरू होगा। इसका शुभारंभ स्वास्थ्य, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में होगा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष और क्षेत्रीय विधायक डॉ. प्रीतम राम, जिला पंचायत सरगुजा की अध्यक्ष मधु सिंह, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष रामदेव राम, जनपद पंचायत के अध्यक्ष गंगा प्रसाद, उपाध्यक्ष वीरभद्र सिंह, सरपंच सुगोत्री मरावी भी मौजूद रहने वाले हैं। धौरपुर में एसडीएम कार्यालय खुलने से अब राजस्व एवं अन्य कार्य के लिए लुण्ड्रा -धौरपुर क्षेत्र के लोगो को 40 किलोमीटर दूर अंबिकापुर नहीं जाना पड़ेगा।

खैरागढ़ चुनाव में हुई थी साल्हेवारा तहसील की घोषणा

खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव में खैरागढ़-छुईखदान-गंडई को नया जिला बनाने का वादा हुआ था। इस दौरान साल्हेवारा को नई तहसील और जालबांधा को उप तहसील बनाने की भी बात थी। चुनाव परिणाम जारी होने के तीन घंटे के भीतर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीनों वादों को पूरा करने की घोषणा कर दी। अप्रैल में नए जिले के गठन की प्रारंभिक अधिसूचना जारी हुई। अब साल्हेवारा तहसील के गठन की अधिसूचना जारी कर दी गई है। यह तहसील भी प्रस्तावित खैरागढ़-छुईखदान-गंडई जिले में आएगी।

छुईखदान से अलग होकर नई तहसील में 78 गांव

साल्हेवारा तहसील को पुरानी छुईखदान तहसील से अलग किया जा रहा है। इसमें दो राजस्व निरीक्षक मंडलों साल्हेवारा और बकरकट्‌टा के 78 गांव आ रहे हैं। इसकी सीमाएं उत्तर में कबीरधाम जिले की बोड़ला तहसील से, दक्षिण में छुईखदान तहसील से, पूर्व में कबीरधाम के बोड़ला और राजनांदगांव की छुईखदान से और पश्चिम में मध्य प्रदेश की बिरसा तहसील को छुएंगी।

खैरागढ़-छुईखदान-गंडई होगा 33वां जिला:कांग्रेस की जीत का प्रमाणपत्र देखते ही मुख्यमंत्री ने की घोषणा, तीन घंटे में पूरा हुआ चुनावी वादा

खबरें और भी हैं...