चंद्रगुप्त-सिकंदर युद्ध का विवाद:योगी आदित्यनाथ को दिग्विजय की सलाह- कृपया इतिहास और भूगोल मोदी जी से न पढ़ें

रायपुर6 महीने पहले

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य और सिकंदर के बीच युद्ध पर दिए बयान पर विपक्ष हमलावर है। योगी आदित्यनाथ ने एक भाषण में कहा था- चंद्रगुप्त मौर्य ने सिकंदर को युद्ध में हराया। इसके बाद भी इतिहासकार चंद्रगुप्त को महान न बताकर सिकंदर को महान लिखते हैं। अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने योगी को सलाह दी है कि वे इतिहास और भूगोल मोदी जी से न पढ़ें।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह मंगलवार को रायपुर हवाई अड्‌डे पर पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। योगी आदित्यनाथ के बयान से जुड़े सवाल पर दिग्विजय सिंह ने दो टूक कहा, इतिहास और भूगोल, महंत अदित्यनाथ जी कृपया मोदी जी से न पढ़ें। राज्य के मंत्रियों से केंद्रीय मंत्रियों के नहीं मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा, यह अहंकार में डूबी हुई सरकार है। जब अहंकार उस स्तर तक पहुंच जाता है तो उसका अंत निश्चित है।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह मंगलवार दोपहर रायपुर पहुंचे। वे सीधे खैरागढ़ रवाना हो गए। वहां वे खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह की तेरहवीं में शामिल होने आए हैं। रायपुर हवाई अड्‌डे पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा सहित कांग्रेस पदाधिकारियों और नेताओं ने दिग्विजय सिंह का स्वागत किया।

कहा-किसे मालुम था देवव्रत इतनी जल्दी चले जाएंगे
खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह के निधन पर दु:ख जताते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, देवव्रत सिंह के देहांत की खबर सुनकर हम सब स्तब्ध रह गए। किसे मालूम था कि देवव्रत इतनी जल्दी चले जाएंगे। हमने तो उसे बच्चे के रूप में देखा है। हमारे यहां तो रिश्ता भी था। हमारे छोटे भाईसाहब का खैरागढ़ में ससुराल है।

इस विवाद पर क्या कहता है इतिहास
ऐतिहासिक दस्तावेजों के मुताबिक सिकंदर की सेनाएं 324 ईसा पूर्व में भारत की सीमाओं से हटकर यूनान लौटने की राह पर चल पड़ी। उस समय तक विजित क्षेत्रों में सेल्युकस निकेटर को गवर्नर नियुक्त किया गया। 305 ईसा पूर्व में सेल्युकस ने भारत पर हमला किया। यहां चंद्रगुप्त मौर्य की सेनाओं से उसका सामना हुआ। सिंधु नदी के पार दोनों साम्राज्यों की सेनाएं टकराई। भारी नुकसान के बाद सेल्युकस ने संधि की पेशकश की थी।

छत्तीसगढ़ की अनदेखी पर भड़के CM:भूपेश बघेल बोले- केंद्रीय मंत्रियों का घमंड सातवें आसमान पर, मतलब अब ये लोग जाने वाले हैं

खबरें और भी हैं...