प्रमोशन की प्रक्रिया को सरल किया:पुलिस में प्रमोशन की प्रक्रिया सरल 56 हजार से ज्यादा को हाेगा फायदा

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्य सरकार ने कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल के प्रमोशन की प्रक्रिया को सरल कर दिया है। पुलिस मुख्यालय से नई पदोन्नति प्रक्रिया भेजी गई थी, जिसे मंजूरी दे दी गई है। अब सिर्फ 800 मीटर की दौड़ लगानी होगी। इसमें भी उम्र के हिसाब से समय बढ़ा दी गई है। इतना ही नहीं, शारीरिक व लिखित परीक्षा के लिए पासिंग मार्क्स ही लगेंगे। प्रदेश में 56 हजार से ज्यादा कांस्टेबल व हेड कांस्टेबल हैं, जिनमें से पांच हजार से ज्यादा को सीधा फायदा मिलेगा।

ये सभी दो साल से इंतजार कर रहे थे। पुलिस कांस्टेबल से हेड कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल से एएसआई के पद पर प्रमोशन के लिए भर्ती प्रक्रिया की तरह की कठिन परीक्षा होती थी। इसमें 15 सेकंड में 100 मीटर और ढाई घंटे में 15 किलोमीटर चलना और दौड़ना पड़ता था। इसे अब सरल कर दिया गया है। अब सिर्फ 800 मीटर दौड़ना पड़ेगा। इसके लिए 30 साल तक के आरक्षकों को 3 मिनट, 30 से 45 वर्ष को 4 मिनट और 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के आरक्षकों को 5 मिनट दिए जाएंगे। इसी तरह 7 किलो का गोला फेंकना होगा। इसमें 30 वर्ष के लिए 5 मीटर, 30 से 45 के लिए 4.5 मीटर और 45 से ज्यादा के लिए 4 मीटर की शर्त होगी। दरअसल, पहले कठिन प्रक्रिया होने के कारण कई आरक्षक उसी पद से रिटायर हो जाते थे या एक प्रमोशन पाते थे। इसे ध्यान में रखकर सीएम भूपेश बघेल ने डीजीपी डीएम अवस्थी को नई और सरल प्रक्रिया बनाने के निर्देश दिए थे। नई पदोन्नति के लिए एसओपी बनाकर डीजीपी ने गृह विभाग को भेजा था, जिसे मंजूरी मिल गई है।

सामान्य ज्ञान, कानून व प्रक्रिया पर होंगे 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्न
शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षा में क्वालीफाई करने पर कर्मचारियों को 100 वस्तुनिष्ठ सवाल पूछे जाएंगे जो 100 नंबर के होंगे। इसमें सामान्य ज्ञान, कानून व प्रक्रिया से जुड़े सवाल होंगे। तीन घंटे में यह हल करना होगा। इसके लिए सामान्य वर्ग को 50 फीसदी और एसटी-एससी वर्ग के कर्मचारियों को 40 फीसदी अंक लाना होगा। पहले पुलिस रेग्युलेशन, कानून एवं प्रक्रिया और सामान्य ज्ञान पर तीन-तीन घंटे परीक्षाएं होती थीं।

जिले व रेंज में 16 अगस्त से 18 सितंबर तक पूरी करनी होगी प्रमोशन की सारी प्रक्रिया
दो साल से प्रमोशन का इंतजार कर रहे कांस्टेबल व हेड कांस्टेबल के प्रमोशन के लिए डीजीपी अवस्थी ने समय-सारिणी तय कर दी है। 16 अगस्त से 18 सितंबर तक प्रक्रिया पूरी करनी होगी। कांस्टेबल के जिले व हेड कांस्टेबल के लिए रेंज स्तर प्रक्रिया की जाएगी। यदि किसी जिले में एएसआई के लिए संबंधित वर्ग के पात्र कैंडीडेट नहीं होंगे तो रेंज के दूसरे जिले से पात्र कैंडीडेट को प्रमोट किया जा सकेगा। इसके लिए आईजी के नेतृत्व में समिति बनेगी।

खबरें और भी हैं...