पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर में डेथ मिस्ट्री:परिजन ने पूछा कोई ऑटो में कैसे फांसी लगा सकता है, यह मर्डर है; फॉरेंसिक टीम ने बताया सुसाइड

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर सोनडोंगरी नाले के पास की है। ऑटो चालकों की मदद से पुलिस ने शव को अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा। - Dainik Bhaskar
तस्वीर सोनडोंगरी नाले के पास की है। ऑटो चालकों की मदद से पुलिस ने शव को अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
  • रायपुर शहर के सोनडोंगरी नाला के पास गुरुवार को ऑटो से लटका मिला युवक का शव
  • यूपी का रहने वाला था युवक, ब्राह्मण समाज के लोगों ने दी कलेक्टर ऑफिस घेराव की चेतावनी

गुरुवार को रायपुर शहर में एक मौत पर बहस छिड़ गई है। उरला थाना इलाके के सोनडोंगरी नाले के पास एक युवक का शव मिला। यह लाश ऑटो से लटकी हुई थी। युवक का शव घुटनों के बल था और उसकी गर्दन से नायलॉन की रस्सी ऑटो से बंधी थी। जिस युवक की लाश मिली उसका नाम धनंजय शुक्ला था। 26 साल के धनंजय की मौत को लेकर परिजन ने कहा है कि यह मौत खुदकुशी नहीं हो सकती। धनंजय के पारिवारिक करीबी विशाल पांडे ने बताया कि ऑटो के पास बैठकर कोई कैसे फांसी लगा सकता है ? यह हत्या ही है। किसी ने धनंजय को मार दिया और फिर ऑटो से उसकी लाश बांधकर नाले के पास छोड़ दी। विशाल ने बताया कि धनंजय यहां अपने भाई अशोक शुक्ला के साथ रहता था। इनका पूरा परिवार यूपी के प्रतापगढ़ का रहने वाला है।

मौके पर पहुंचे फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने शव की जांच के बाद इसे सुसाइड की घटना बताया, हालांकि जांच जारी है।
मौके पर पहुंचे फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने शव की जांच के बाद इसे सुसाइड की घटना बताया, हालांकि जांच जारी है।

इस वजह से पुलिस कर रही सुसाइड का दावा
उरला थाना के प्रभारी अमित तिवारी ने दैनिक भास्कर को बताया कि फांसी लगाकर मौत के मामले में धारणा होती है पैर हवा में झूलता मिलेगा और शरीर फंदे से लटका हुआ। मगर हर केस में ऐसा जरूरी नहीं है। रस्सी के दबाव और शरीर के वजह से गर्दन की हड्‌डी टूट जाती है और फौरन मौत हो जाती है। हमने फॉरेंसिक एक्सपर्ट से भी शव का परीक्षण करवाया। गले पर रस्सी के निशान को उन्होंने बारीकी से जांचा। फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने बताया कि युवक के गले में जो निशान है वो ऊपर की तरफ है। ऐसा तब होता है जब कोई व्यक्ति खुद फंदे पर लटकता है। किसी ने हत्या की होती तो निशान में फर्क होता। बहरहाल पोस्टमार्टम के बाद सब कुछ साफ हो जाएगा।

होने वाली थी शादी
धनंजय के पारिवारिक परिस्थितियों को लेकर विशाल पांडे ने कहा कि किसी तरह की कोई परेशानी या तनाव की बात हमें नहीं पता। आमतौर पर ऐसा होने पर ही किसी व्यक्ति को तनाव होता है। हाल ही में धनंजय की शादी तय हुई थी। परिवार के लोग इसकी तैयारियों में जुटे थे, मगर अब इस खबर से सभी परेशान हैं। पेशे से ऑटो चलाने वाले धनंजय का जब शव बरामद किया गया तो उसकी जेब से 11 हजार रुपए मिले। पैसों की तंगी जैसी परिस्थिति भी नहीं थी।

लोगों में इस घटना को लेकर कई तरह के सवाल हैं, पुलिस पर खानापूर्ति करने के आरोप लगाए गए।
लोगों में इस घटना को लेकर कई तरह के सवाल हैं, पुलिस पर खानापूर्ति करने के आरोप लगाए गए।

रंजिश की वजह से हुई हत्या ?
विशाल के मुताबिक बुधवार को दोपहर के वक्त धनंजय का किसी शख्स के साथ फोन पर झगड़ा हुआ था। वो व्यक्ति कौन था यह तो नहीं पता। पुलिस इस पर जांच करेगी। वो इस झगड़े की वजह से परेशान जरुर था। हमें शक है कि कोई पुरानी रंजिश रही होगी, जिसकी वजह से इस तरह से हत्या के बाद शव को धनंजय के ही ऑटो से लटकाकर हत्यारा फरार हो गया।

सड़क पर ऑटो रखकर चक्का जाम कर दिया गया। इसे कुछ देर बाद पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देते हुए हटवाया।
सड़क पर ऑटो रखकर चक्का जाम कर दिया गया। इसे कुछ देर बाद पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देते हुए हटवाया।

ब्राम्हण समाज ने दी कार्रवाई की चेतावनी
ब्राम्हण समाज और ऑटो चालक संघ इस घटना से काफी नाराज है। धनन्जय का शव मिलने के बाद सोनडोंगरी के पास प्रदर्शन करते हुए चक्का जाम कर हत्यारे को गिरफ्तार करने की मांग की है। पुलिस के आश्वासन के बाद प्रदर्शनकारी माने। ब्राह्मण समाज के पदाधिकारी अजय तिवारी ने बताया कि इस घटना को पुलिस बेवजह सुसाइड बताने पर आमादा है। हम यह नहीं सहेंगे। अगर 5 दिनों के अंदर इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती तो कलेक्टर ऑफिस का घेराव किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

और पढ़ें