पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • The Family Of An Elderly Man Who Jumped From The AIIMS Building Did Not Know That He Had Become Corona; AIIMS Claims Mental Condition Was Not Good, Family Denied

उलझन:एम्स बिल्डिंग से कूदकर जान देने वाले बुजुर्ग के परिजन को पता नहीं था कि उन्हें कोरोना हो गया; एम्स का दावा - मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी, परिजन ने नकारा

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एम्स की तीसरी मंजिल से कूदकर खुदकुशी करने वाले बुजुर्ग के परिजन ने ये कहकर सनसनी फैला दी कि उन लोगों को 5 दिन से पता ही नहीं था कि बुजुर्ग को कोरोना हुआ है। परिजनों ने दावा किया कि बुजुर्ग को शुगर बढ़ने, गैस और हल्की खांसी और गैस की शिकायत के बाद निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। वहां कब कोरोना जांच हुई और पाजिटिव मिलने के बाद एम्स में भर्ती कर दिया गया, इसकी सूचना तक नहीं दी गई। एम्स प्रबंधन ने दावा किया कि बुजुर्ग को मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण एक दिन बिस्तर में बांधा गया था, लेकिन परिजनों ने भी इसे गलत बताया और कहा कि बुजुर्ग की मानसिक स्थिति के बारे में आसपास के लोगों से भी पता लगाया जा सकता है। वे बिलकुल ठीक थे।
मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात एम्स की तीसरी मंजिल से कूदकर कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की खुदकुशी का मामला विवादित हो रहा है। आमानाका टीआई भरत बरेठ ने बताया कि परिजनों के दावे के बाद अस्पताल प्रबंधन से उस जगह का सीसीटीवी फुटेज मांगा गया है, जहां बुजुर्ग भर्ती थे और जहां से छलांग लगाई। पुलिस की जांच में अब तक जो बात आई है, उसके अनुसार बुजुर्ग को 7 तारीख को एम्स में भर्ती किया गया था। वह तीसरी मंजिल के एक वार्ड में थे, जहां 3 मरीज और थे। बुजुर्ग रात 9 बजे भोजन के बाद सो गए। रात 12.30 बजे बाथरूम गए, जो बालकनी से लगा हुआ है। इसी बालकनी से छलांग लगा दी। इधर, एम्स प्रबंधन ने पुलिस को बताया कि भर्ती के बाद बुजुर्ग रातभर सोए नहीं और हंगामा किया। इस वजह से उन्हें 8 तारीख को सुबह मनोचिकित्सक के पास इलाज के लिए ले जाया गया। मानसिक स्थिति ठीक नहीं रहने की वजह से उन्हें एक रात में भी बिस्तर से बांधकर रखा गया।
बेटे की मौजूदगी में अंत्येष्टि : प्रशासन-पुलिस की मौजूदगी में कोरोना प्रोटोकाल के साथ बुजुर्ग का बुधवार शाम हीरापुर मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया। उस वक्त बेटे को बुलाया गया था, लेकिन उसे दूर से ही दर्शन करवाए गए और सामने ही अंतिम संस्कार हुआ। वीडियो काॅल के जरिए बाकी परिजन ने अंतिम संस्कार देखा।

किसी के संपर्क में नहीं थे : बहू ने बयान दिया कि उसके ससुर की शुगर बढ़ी थी, गैस बन रही थी इसलिए निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। यहां से उन्हें अचानक एम्स में भर्ती कर दिया गया। कोरोना के बारे में किसी ने सूचना नहीं दी। एम्स जाने के बाद से परिवार के किसी व्यक्ति का बुजुर्ग से संपर्क नहीं हुआ। केवल मृत्यु की सूचना मिली।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें