पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ड्राइवर तो निकला कार चोर:मालिक को छोड़कर कार ले भागा, जब पुलिस ने पकड़ा तो मिली एक और ऐसे ही चुराई हुई कार

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने इस केस में चोरी की कार खरीदने वाले को भी पकड़ा है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने इस केस में चोरी की कार खरीदने वाले को भी पकड़ा है।

गरियाबंद जिले के फिंगेश्वर में रहने वाले मुविश कुमार की कार 25 मई को चोरी हो गई थी। शनिवार को इस मामले में चोर को रायपुर पुलिस ने पकड़ लिया। चोर कोई और नहीं बल्कि मुविश का ड्राइवर धर्मेंद्र मारकंडे ही निकला। इस केस की जांच में पुलिस ने पाया कि धर्मेंद्र कार चोरी करने के खेल का पुराना खिलाड़ी है। इसके पास से एक और गाड़ी मिली है, जिसे रायपुर के माना थाने की टीम ने बरामद कर लिया है।

इस तरह धोखा देकर ले गया था कार
हर रोज की तरह 25 मई को भी मुविश के पास धर्मेंद्र पहुंचा था। गरियाबंद से वो मुविश को स्विफ्ट कार से लेकर माना इलाके में आया था। यहां रुककर मुविश कुछ किराना सामान खरीद रहा था। इसी दौरान धर्मेंद्र मौका पाकर कार लेकर भाग। जब दुकान से सामान लेकर मुविश पीछे मुड़ा तब तक धर्मेंद्र अभनपुर की तरफ भाग गया। कार में मुविश के दो लैपटॉप, स्मार्ट फोन, क्रेडिट कार्ड, एटीएम कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस रखा हुआ था।

इस चोरी की शिकायत मुविश ने माना थाने में दर्ज करवाई। थाने के प्रभारी दुर्गेश रावटे की टीम कार और धर्मेंद्र का पता लगा रही थी। टीम को वह अभनपुर में मिल गया। उसे फौरन गिरफ्तार कर लिया गया। मुविश की कार भी मिली। पुलिस ने जब पूछताछ की तो पता चला कि 11 महीने पहले भी आरोपी ने राजिम से एक कार चुराकर रायपुर के चंगोराभाटा में रहने वाले पंकज चंद्राकर को बेची थी। उस कार को भी टीम ने बरामद कर लिया है। अब धर्मेंद्र को शनिवार को ही कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...