विज रिटायर:अफसर बोले-पुलिस का आधुनिकीकरण उनकी देन

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्पेशल डीजी आरके विज शुक्रवार को रिटायर हो गए। उन्हें पुलिस मुख्यालय में विदाई दी गई। इस दौरान अफसरों ने पुलिस आधुनिकीकरण में उनके योगदान को याद किया। अफसरों ने कहा कि पुलिस थाने, गाड़ी, सीसीटीएनएस, सीसीटीवी कैमरे और तकनीकी सेवाओं से लेकर नक्सल ऑपरेशन के जवानों के लिए आधुनिक हथियार भी उनकी कोशिशों से उपलब्ध हुए। डीजीपी अशोक जुनेजा ने उन्हें पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया।

इस दौरान विज ने कहा कि जीवन में हमेशा ईमानदारी को प्राथमिकता देनी चाहिए। ईमानदारी से आप कुछ खोएंगे नहीं, बल्कि आपकी वैल्यू बढ़ेगी। जीवन में कोई भी ऐसा काम ना करें कि आत्मग्लानि हो। अपने करियर से आज सेवानिवृत्त होते समय मुझे संतुष्टि है। इस सर्विस ने बहुत कुछ दिया है। जो भी गुण हैं, इसी सेवा के दौरान सीखे हैं। विज ने कहा कि हमें हमेशा बड़ा दिल रखना चाहिए। यदि आपका अधीनस्थ कोई गलती करता है तो उसे सजा देने के बजाय उसे सिखाने पर जोर दें। अधीनस्थ का मनोबल बढ़ाकर ज्यादा अच्छे से कार्य लिया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि कार्यक्षेत्र जहां आप कार्य करते हैं, उसे हमेशा सुंदर बनाकर रखें। कार्यक्षेत्र के अच्छे वातावरण में ही ज्यादा आउटपुट आता है। इस दौरान एडीजी हिमांशु गुप्ता, प्रदीप गुप्ता, विवेकानंद सिन्हा, आईजी आरपी साय, एससी द्विवेदी, डॉ. संजीव शुक्ला, विनीत खन्ना, हिमानी खन्ना, मनीष शर्मा, राजेश अग्रवाल, वायपी सिंह, यूबीएस चौहान, सचिन देव शुक्ला मौजूद थे। पुलिस मुख्यालय में इंस्पेक्टर राधेश्याम पांडेय, सब इंस्पेक्टर विजय वर्मा, हेड कांस्टेबल वामन राव नवले को भी स्मृति चिह्न, शॉल-श्रीफल भेंट कर विदाई दी गई।

खबरें और भी हैं...