पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घड़ी चौक पर रेलिंग लगाकर करेंगे मार्किंग:फिर सड़क पर पार्क होने वाली गाड़ियों को किया जाएगा जब्त

रायपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर घड़ी चौक स्थित शहीद वीरनारायण कांप्लेक्स के सामने में रेलिंग लगाकर मार्किंग की जाएगी। मार्किंग के बाहर वाहन पार्क करने वालों की गाड़ियां सीधे जब्त की जाएंगी। अभी कांप्लेक्स में आने वाले अपनी कारें और बाइक घड़ी चौक के सामने की सड़क पर पार्क करते हैं।

दोपहर बाद स्थिति ये हो जाती है कि 60 फुट की सड़क वाहनों की पार्किंग की वजह से 10-15 फुट की रह जाती है। इससे सड़क पर ट्रैफिक जाम होता है। कांप्लेक्स के ठीक सामने मल्टीलेवल पार्किंग बन गयी है। कांप्लेक्स में आने वाले ग्राहकों और यहां चलने वाले संस्थानों के संचालकों को अपने वाहन वहीं पार्क करने होंगे। हालांकि पार्किंग शुरू होने के बाद भी न तो कांप्लेक्स में कामकाज करने वाले अपने वाहन वहां खड़ी कर रहे हैं और न ही यहां आने वाले ग्राहक। इस वजह से यहां की ट्रैफिक को सुधारने के लिए रेलिंग लगाने का फैसला किया गया।

उसी के साथ पूरी सड़क पर मार्किंग की जाएगी। इस दौरान सफेद पट्टी खींची जाएगी। दोनों काम पूरा होने के बाद ट्रैफिक पुलिस की सख्ती शुरू की जाएगी। रेलिंग व मार्किंग होने के बाद कोई भी अपना वाहन कांप्लेक्स तक नहीं ले जा सकेंगे। लोगों को अपनी गाड़ियां मल्टीलेवल पार्किंग में खड़ी करनी होगी। ऐसा न करने वालों को अपनी गाड़ियां रेलिंग के बाहर सड़क पर खड़ी करनी होगी। सड़क पर गाड़ियां खड़ी करते ही पुलिस जब्ती की कार्रवाई करेगी। डीएसपी सतीश ठाकुर ने बताया कि सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में घड़ी चौक की समस्या को रखा था। उसी बैठक में रेलिंग लगाने का फैसला किया है। क्योंकि वहां सुबह और शाम के समय सबसे ज्यादा जाम लगता है। कांप्लेक्स में आने वाले सड़क पर गाड़ियां पार्क करते है, जबकि ये सड़क ऐसी है कि यहां सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक वहां ट्रैफिक का दबाव रहता है।

आंखों के अस्पताल में पार्किंग
पुलिस और निगम ने तेलीबांधा तालाब के पास स्थित आंखों के अस्पताल के परिसर को पार्किंग के लिए चिन्हित किया है। वहां पर पार्किंग स्थल बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। स्मार्ट सिटी के साथ मिलकर निगम वहां इस तरह की पार्किंग बनाएगी कि वहां तकरीबन 50 कारें और 70 से ज्यादा बाइक एक साथ खड़ी की जा सके। अभी पार्किंग की व्यवस्था न होने के कारण लोग तेलीबांधा तालाब के सामने ही गाड़ियां पार्क करते हैं। इससे हादसे का खतरा बना रहता है। ट्रैफिक भी प्रभावित होता है। इसी तरह अनुपम गार्डन और कपड़ा मार्केट में पार्किंग स्थल बनाया जाएगा। कपड़ा मार्केट का काम तेजी से चल रहा है। त्योहार के पहले वहां पार्किंग बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इसलिए सड़क के दोनों ओर काम चल रहा है।

कलेक्टोरेट परिसर में होगा नो पार्किंग जोन
पुलिस अफसरों ने बताया कि कलेक्टोरेट और एसपी दफ्तर परिसर को नो पार्किंग जोन बनाने की तैयारी की जा रही है। दोनों जगह काम करने वाले कर्मचारियों की सूची तैयार की जा रही है। ढाई से ज्यादा कर्मचारियों की सूची अभी तक बनाई जा चुकी है। उन्हें जल्द पास जारी किया जाएगा। वे मल्टीलेवल पार्किंग में अपनी गाड़ियां पार्क करेंगे। उनसे किसी तरह शुल्क नहीं लिया जाएगा। कलेक्टर और एसपी दफ्तर में आने वाले दूसरे विभाग या अन्य जगह से आने कर्मचारियों को मल्टीलेवल पार्किंग में आईडी कार्ड दिखाना होगा। उनसे भी शुल्क नहीं लिया जाएगा। कलेक्टोरेट और एसपी दफ्तर परिसर में पार्किंग पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी। वहां गाड़ियों को घुसने नहीं दिया जाएगा। अगर भीतर गाड़ियों पार्क हुईं तो उसे जब्त किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...