छत्तीसगढ़ में शहरी सरकारों का जनादेश:भिलाई-रिसाली नगर निगम में कब्जा; चरौदा, बीरगांव नगर निगम में 2 सीट से चूकी

रायपुर5 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के 2 नगर निगम, 5 नगर पालिका और 6 नगर पंचायतों के चुनाव में कांग्रेस ने बंपर जीत दर्ज की है। इसमें बीरगांव नगर निगम, चरौदा नगर निगम और जामुल नगर पालिका को छोड़ सभी में कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है। यानी कि अब उसका मेयर या अध्यक्ष निर्विरोध चुना जाएगा। कोरिया जिले की दोनों नगर पालिका सीट बैकुंठपुर और चरचा में भी कांग्रेस ने जीत हासिल की है। बैकुंठपुर की 20 में से 11 सीटों और चरचा की 15 में से 8 कांग्रेस को हासिल हुई है।

बीरगांव में किसी को बहुमत नहीं

रायपुर के बीरगांव नगर निगम में कांग्रेस 2 सीट से बहुमत से चूक गई। 40 वार्डों वाले इस नगर निगम में कांग्रेस को 19 वार्डों में ही जीत मिली है। भाजपा प्रत्याशी ने 10 और JCCJ प्रत्याशियों ने 5 वार्डों में जीत हासिल की है। 6 वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी है। यहां अब तक आए परिणामों में किसी को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है। वहीं वार्ड 33 में, जब निर्दलीय प्रत्याशी पुन्नी साहू के हार की खबर आई। यह खबर सुनते ही पुन्नी साहू का पति बेहोश हो गया। वह जमीन पर ही पड़ा रहा। पुन्नी साहू के पति ने चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है।

बीरगांव में बीवी हारी तो पति बेहोश हो गया।
बीरगांव में बीवी हारी तो पति बेहोश हो गया।

दुर्ग के 2 निगमों पर कांग्रेस का कब्जा, एक में सबसे बड़ी पार्टी

दुर्ग जिले के चारों नगरीय निकाय के परिणाम लगभग तय हो गए हैं। रिसाली में कांग्रेस ने 21 वार्डों में जीत दर्ज की है। भाजपा ने 12 और 7 पर निर्दलीय जीते हैं। यानी यहां कांग्रेस का मेयर बनना तय हो गया है। वहीं भिलाई-चरौदा के 40 वार्डों में 19 पर कांग्रेस, 13 पर भाजपा और 8 पर निर्दलीय ने जीत दर्ज की है। यानी यहां मेयर बनाने के लिए निर्दलीय बड़ी भूमिका निभाएंगे। वहीं जामुल नगर पालिका पर भाजपा ने कब्जा किया। उसने 20 में से 10 वार्ड में जीत दर्ज की है। जबकि कांग्रेस को 5, JCCJ को 1 और निर्दलीय को 4 वार्ड में जीत मिली है।

दुर्ग नगर पालिका निगम में जीते गए प्रत्याशियों को प्रमाणपत्र दिया गया।
दुर्ग नगर पालिका निगम में जीते गए प्रत्याशियों को प्रमाणपत्र दिया गया।

खैरागढ़ में विवाद के बाद बराबरी पर BJP-कांग्रेस

राजनांदगांव के खैरागढ़ नगर पालिका परिषद में भाजपा 10, कांग्रेस ने 9 वार्डों में जीत दर्ज की थी। जबकि एक वार्ड-4 में टाई हो गया था। दोनों प्रत्याशियों को 387-387 वोट मिले थे। इसके बाद दो बार रीकाउंटिंग कराई गई, लेकिन फिर भी नतीजा नहीं निकल सका। जब तीसरी बार काउंटिग हुई तो एक वोट से कांग्रेस प्रत्याशी को जीता घोषित कर दिया गया। इस पर भाजपाई भड़क गए। उन्होंने वहां रखी कुर्सियां तोड़ डाली और धरने पर बैठ गए हैं। आरोप है कि एसडीएम ने भाजपाइयों को बाहर निकाल, धोखाधड़ी कर कांग्रेस उम्मीदवार को जिताया है।

भाजपाइयों ने कुर्सियां तोड़ डाली और धरने पर बैठ गए। भाजपाइयों का आरोप है कि धोखाधड़ी कर कांग्रेस उम्मीदवार को जिताया गया।
भाजपाइयों ने कुर्सियां तोड़ डाली और धरने पर बैठ गए। भाजपाइयों का आरोप है कि धोखाधड़ी कर कांग्रेस उम्मीदवार को जिताया गया।

बस्तर में लहराया कांग्रेस का परचम

बस्तर में निकाय चुनाव में भोपालपटनम में कांग्रेस ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। पूरे 15 वार्डों में कांग्रेस प्रत्याशी जीते हैं। भैरमगढ़ में भी 10 वार्डों में कांग्रेस ने कब्जा किया, जबकि 5 वार्डों पर भाजपा ने जीत दर्ज की है। सुकमा जिले के कोंटा नगरी निकाय में 15 में से 14 सीटों पर कांग्रेस को जीत मिली, सिर्फ एक सीट भाजपा जीत सकी है। कांकेर के नरहरपुर में भी 11 वार्डों में कांग्रेस ने जीत दर्ज की है, अन्य 4 वार्डों में भाजपा ने कब्जा जमाया है।

कोंटा में भाजपा की हारी हुई प्रत्याशी रोने लगी।
कोंटा में भाजपा की हारी हुई प्रत्याशी रोने लगी।

बेमेतरा का मारो भी भाजपा से फिसला

बेमेतरा जिले के मारो नगर पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा हो गया है। नगर पंचायत के 15 वार्ड में से 10 पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है। जबकि भाजपा को 4 और निर्दलीय को एक वार्ड में जीत मिली है। खास बात यह है कि वार्ड 2 में कांग्रेस उम्मीदवार मालती बघेल और भाजपा प्रत्याशी रानी बिरेंद्र घृतलहरे के बीच टाई हो गया था। दोनों को 94-94 वोट मिले थे। इसके बाद लॉटरी के जरिए मालती बघेल को एक वोट से विजयी घोषित किया गया।

बेमेतरा के मारो नगर पंचायत में जीत के बाद कांग्रेसियों ने निकाला विजयी जुलूस।
बेमेतरा के मारो नगर पंचायत में जीत के बाद कांग्रेसियों ने निकाला विजयी जुलूस।

रायगढ़ के सारंगढ़ में 11 वार्ड में कांग्रेस को मिली जीत

रायगढ़ नगर निगम के दो वार्डों 25 और 9 में उपचुनाव हुए। वार्ड 25 से कांग्रेस की सपना सिदार और वार्ड 9 से कांग्रेस की ही रंजना कमल पटेल ने जीत दर्ज की। रायगढ़ की सारंगढ़ नगर पालिका के 15 वार्डों में से 11 पर कांग्रेस, भाजपा ने 3 और निर्दलीय ने एक वार्ड में जीत हासिल की। बिलासपुर के इकलौते वार्ड तारबाहर में हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस के असलम शेख ने बड़ी जीत हासिल की है। उन्होंने भाजपा के प्रत्याशी को 1 हजार 967 वोटों से हराया।

तारबाहर में हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस के असलम शेख ने बड़ी जीत हासिल की है।
तारबाहर में हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस के असलम शेख ने बड़ी जीत हासिल की है।

उपचुनाव में भी कांग्रेस का रहा दबदबा

  • नगर पालिका परिषद गोबरा-नवापारा उपचुनाव में वार्ड 14 में पहले चरण में भाजपा की मधु तरूण बाफना ने जीत दर्ज की है। उन्हें 265 मत मिले हैं।
  • कांकेर के भानुप्रतापपुर नगर पंचायत की एक सीट पर उपचुनाव में कांग्रेस की जीत हुई है। कांग्रेस की शांति ठाकुर ने भाजपा प्रत्याशी को 4 मत से हराया है। वहीं निर्दलीय प्रत्याशी चित्र रेखा मरकाम को मात्र एक वोट मिला।
  • धमतरी में तीनों नगर पंचायत आमदी, कुरूद और मगरलोड के लिए हुए उपचुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है। नगर पंचायत आमदी के वार्ड-14 से कांग्रेस प्रत्याशी घनानंद साहू, कुरूद के वार्ड-1 से उत्तम साहू और मगरलोड के वार्ड-11 से कांग्रेस के सुरेश कुमार साहू ने जीत दर्ज की।
कोंटा में जीत दर्ज करने के बाद प्रत्याशियों में खुशी का माहौल।
कोंटा में जीत दर्ज करने के बाद प्रत्याशियों में खुशी का माहौल।

निकाय चुनाव से जुड़ी खास बातें

  • करीब 2 हजार कर्मचारी 600 मेजों पर वोटों की गिनती की। इसी गिनती से 1393 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला हुआ, जो 385 सीटों पर कब्जे के लिए कई महीनों से जनता से वोट मांग रहे थे।
  • आम चुनाव वाले 15 नगरीय निकायों में 60.60% मतदान हुआ है। वहीं उप निर्वाचन का मतदान 64.85% रहा।
  • बीरगांव, भिलाई, रिसाली और भिलाई-चरौदा नगर निगमों सहित 15 शहरों के 370 वार्डों में आम चुनाव हुआ था। यहां से 1345 उम्मीदवार पार्षद पद की दावेदारी कर रहे हैं। 14 शहरों के 15 वार्डों में चुनाव हुआ, जहां से 48 उम्मीदवार चुनावी मैदान मे थे।
खबरें और भी हैं...