पानी का जाम:इधर ट्रैफिक रुका, उधर अंडरग्राउंड नाले भी चोक; सड़कों पर उमड़े नाले, एक घंटे तक पूरा शहर फंसा

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी रायपुर में पिछले दो दिन में ऐसी बारिश हुई कि सड़क के ऊपर और नाली के भीतर पानी जाम हो गया। गली, मोहल्ले और कालोनियां दो दिन में दूसरी बार डूब गईं। शहर की ज्यादातर सड़कें बारिश थमने के बाद भी एक घंटे तक लबालब रहीं और मुश्किल से पानी उतरा। इस वजह से तकरीबन हर सड़क पर जाम लग गया, जो रात 9 बजे के बाद ही क्लीयर हो सका।

रविवार की बारिश के बाद निगम अमले ने शहर के नाले-नालियों की सफाई की थी। इस वजह से शनिवार को हालात जिस तरह बिगड़े थे, सोमवार की रात वैसे नहीं बिगड़ पाए लेकिन मूसलाधार बारिश ने पूरी व्यवस्था को नाकाम कर दिया। सोमवार को शाम करीब 6 बजे तेज गर्जना के साथ बारिश शुरु हुई और घंटेभर की मूसलाधार बारिश में करीब 40 मिमी पानी गिर गया। रविवार को करीब डेढ़ घंटे में 53 मिमी से ज्यादा पानी गिरा। शाम साढ़े 7 बजे के आसपास बारिश थम गई, लेकिन इसके बाद करीब घंटेभर तक पूरा शहर थमा रहा। लालगंगा से जयस्तंभ चौक के बीच पानी भरने की वजह से जीई रोड में दोनों तरफ जाम लग गया।

आमापारा में आजाद चौक जाने वाली सड़क पर कल की तरह आज भी पानी भरा था। दूसरे दिन भी थाने के भीतर पानी पहुंच गया। मौदहापारा में भाजपा दफ्तर के सामने टापू बन गया। आनंद नगर के ज्यादातर घरों में एक से डेढ़ फीट तक पानी भर गया। यहां प्राकृतिक चिकित्सालय से लेकर आनंद विहार तक 3 से 4 फीट पानी भरा। लोगों का कहना है आज तक इतना जलभराव नहीं हुआ था। लोगों का आरोप है कि तेलीबांधा के नाले को मोड़कर आनंद नगर-आनंद विहार जंक्शन में ले जाने की तकनीकी गलती के कारण ही यहां पानी भर रहा है।

आज भी रहना होगा सतर्क
मौसम विज्ञानियों के अनुसार मंगलवार को भी रायपुर में शाम-रात में अच्छी बारिश होने की संभावना है। इसलिए नगर निगम और बाढ़ नियंत्रण प्रकोष्ठ को अगले एक-दो दिन तक मुश्तैद रहना होगा। अफसरों का कहना कि शहर में ज्यादातर जलभराव ओवरफ्लो की वजह से हो रहा है। एक साथ तेज बारिश के कारण संकरे नालों और नालियों से पानी नहीं निकल पाता। इसलिए नालियों की गहराई तक सफाई कराई जा रही है।

सैकड़ों घरों में पानी, छत गिरी
कई वार्ड ऐसे हैं, जहां एक्सप्रेस-वे की वजह से पानी निकलने का रास्ता फिलहाल बंद हैं। ऐसे आधा दर्जन वार्डों में इस सड़क के किनारे की बस्तियों के सैकड़ों घरों में पानी घुसा। दलदल सिवनी के कई इलाके टापू में तब्दील हो गए हैं। यहां खुले आम नालों को मोड़ा और पाटा गया है। तीन-तीन फीट तक पानी भर गया। काली मन्दिर पास, चुलमाटी चौक, तालाब के पास, महावीर चौक के पास हर घर में पानी भरा। सदर बाजार इलाके में तेलीपारा, नयापारा, हनुमान मंदिर के पीछे अधिक वर्षा के कारण एक व्यक्ति उमेश सावरकर के घर की छत गिर गई है। जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंचे। बताया गया कि सभी लोग सुरक्षित हैं।

खबरें और भी हैं...