3 दिन बाद पुलिस ने सुलझाई गुत्थी:युवक ने साथी कर्मचारी की गला घोटकर की हत्या

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धरसींवा इलाके में तीन दिन पहले नाली में मिले युवक के शव की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। युवक की हत्या उसके साथ काम करने वाले कर्मचारी ने ही की थी। आरोपी ने पहले युवक को जमकर शराब पिलाई। जब वह लड़खड़ाने लगा तो नाली में धक्का दे दिया। गिरने के बाद गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और फरार हो गया।

आरोपी मृतक पर शक करता था। दोनों के बीच पुराना विवाद भी था। पुलिस ने बताया कि पंजाब के लुधियाना निवासी मनोज कुमार (23) सिलियारी स्थित फैक्ट्री में काम करता था। फैक्ट्री के पास ही किराए पर रहता था। उसके साथ मुंगेली निवासी दुलेश्वर पात्रे (22) भी काम करता था। दोनों आसपास ही रहते थे। दोनों का एक-दूसरे के घर आना-जाना था। पैसों को लेकर पहले भी दोनों के बीच विवाद हुआ था। दुलेश्वर मनोज पर शक करता था। इसलिए उसने मनोज को अपने घर आने-जाने से मना कर दिया। 13 जनवरी को दुलेश्वर ने मनोज की हत्या की प्लानिंग की।

रात में फैक्ट्री से छूटने पर वह मनोज को पार्टी करने का झांसा देकर अपनी बाइक से धरसींवा ले गया। यहां दोनों ने शराब पी। दुलेश्वर ने साजिश के तहत मनोज को खूब शराब पीला दी। मनोज लड़खड़ाने लगा। वह ठीक से बातचीत नहीं कर पा रहा था। मनोज को बाइक में बिठाकर एक बड़े नाले के पास ले गया और बहाना बनाकर बाइक से नीचे उतारा। फिर उसे धक्का दे दिया। मनोज नाली में गिर गया। दुलेश्वर मनोज को लात से मारने लगा। उसने गमछा से मनोज का गला घोंट दिया। मनोज ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। दुलेश्वर वहां से भागकर अपने कमरे में आ गया। फिर दूसरे दिन सुबह ड्यूटी चला गया। 14 जनवरी को पुलिस को मनोज की लाश मिली। उसकी पहचान करने में पुलिस को एक दिन लग गई। पहचान होने के बाद पुलिस ने शक के आधार पर दुलेश्वर को हिरासत में लिया। क्योंकि दोनों को आखिरी बार एक साथ देखा गया था। जांच के दौरान दोनों के बीच विवाद की बात भी सामने आई। पुलिस की सख्ती के बाद दुलेश्वर ने हत्या की बात कबूल कर ली। उसे रविवार को जेल भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं...