पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अव्यवस्था:कोविड अस्पताल तैयार, कूलर फ्रीज नहीं इसलिए नहीं खुला

पखांजूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आईटीआई हॉस्टल को बनाया कोविड अस्पताल

कोरोना की जंग में प्रशासनिक लापरवाही हर स्तर पर उजागर हो रही है। पखांजूर इलाके में लगातार पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं। इसके लिए नगर में 50 बिस्तर का कोविड अस्पताल 15 दिनों से बन कर तैयार है। स्टाफ भी पहुंच चुका है लेकिन अस्पताल सिर्फ इसलिए नहीं खोला जा सका है क्योंकि यहां फ्रीज व कूलर अब तक नहीं लगाए गए हैं। इसके चलते मरीजों को दुर्गकोंदल और कांकेर भेजा जा रहा है। जबकि जिले के विकासखंडों में दो माह पूर्व ही अस्पताल खोलने के आदेश जारी हुए थे।
प्रदेश भर में कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ा हुआ है। देश भर में भले ही कोरोना के केस में कमी आई हो पर प्रदेश में कोरोना के मरीज बढ़ ही रहे हैं। परलकोट इलाके में प्रतिदिन 8 से 10 पॉजिटिव मिल रहे हैं, पर इन मरीजों के लिए पखांजूर में खुलने वाला कोविड अस्पताल अब तक नहीं खुल पाया है। पखवाड़े भर पूर्व ही इस अस्पताल का काम पूरा हो चुका है। इलाके में जो पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं उनमें अधिकांश के घरों में अलग से शौचालय व बाथरूम की व्यवस्था नहीं है। कुछ के घरों में तो एक ही कमरा है जिसके चलते लक्षण वाले मरीजों को कांकेर तथा दुर्गकोंदल कोविड अस्पताल भेजा जा रहा है। हर विकासखंड में दो माह पूर्व ही 50 बिस्तर कोविड अस्पताल खोलने की स्वीकृति मिल चुकी है। पखांजूर में आईटीआई स्थित हॉस्टल को कोविड अस्पताल बनाया गया है। इस हॉस्टल में जरूरी बदलाव किए गए। मरीजों के कमरों में कूलर और दवा रखने एक फ्रीज की व्यवस्था नहीं होने के कारण अस्पताल शुरू नहीं हो पा रहा है।
दो दिन में फ्रीज व कूलर आने की संभावना: बीएमओ कोयलीबेड़ा डॉ दिलीप सिन्हा ने बताया कि अस्पताल तैयार है लेकिन कूलर और फ्रीज जिले से नहीं आने के कारण शुरू नहीं किया जा सका है। एक दो दिन में सामान आने की संभावना है। सामान आते ही अस्पताल शुरू कर दिया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें