पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अव्यवस्था:बारदानों की कमी व खराब मौसम होने से धान खरीदी बंद, अभी नहीं बेच पाए 40% किसान

पखांजूर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कुछ केंद्रों में टोकन तो काटे गए लेकिन बारदाने लाने वाले किसानों से ही खरीदा गया धान

परलकोट क्षेत्र में खराब मौसम और बारदाने की कमी के चलते गुरुवार को धान खरीदी प्रभावित हुई। कापसी में कई केंद्र में मौसम खराब होने के कारण खरीदी बंद रही, तो पखांजूर के कई केंद्रों में बारदाना समाप्त हो जाने के कारण केवल उन किसानों की धान खरीदी हो सकी, जो बारदाने लेकर पहुंचे। बारदाने की कमी के चलते पखांजूर लैंपस के तीन धान खरीदी केंद्र प्रभावित रहे, ऐसे में इन केंद्रों में केवल उन किसानों की धान खरीदी हो सकी, जो शत-प्रतिशत बारदाना लेकर केंद्र पहुंच रहे हैं। अगर बारदाना नहीं पहुंचा, तो कल और तीन केंद्र में भी धान खरीदी बंद हो सकती है। सोमवार से पखांजूर लैम्पस के सभी केंद्रों में बारदाना समाप्त हो जाएगा।
गुरुवार की सुबह से ही बदली और हो रही रिमझिम वर्षा के कारण कापसी लैंपस के छोटेकापसी, बड़ेकापसी तथा ग्राम पीवी 8 में धान खरीदी पूरी तरह से बंद रही। गुरुवार को जिस तरह से सुबह से हल्की वर्षा हो रही थी, ऐसे में लग रहा था कि आज किसी भी केंद्र में खरीदी नहीं होगी, लेकिन सुबह 10 बजे के बाद हल्की धूप निकल आई। ऐसे में अधिकांश केंद्रों में धान खरीदी शुरू हो गई, जिससे किसानों ने राहत की सांस ली।
इन केंद्रों में बारदाने नहीं, खरीदी बंद : पखांजूर लैंपस के तीन धान खरीदी केंद्र माटोली, पीवी 39 तथा पीवी 22 में बारदाना पूरी तरह से खत्म हो जाने के कारण धान खरीदी नहीं हो सकी। गुरुवार को जिन किसानों का टोकन कटा था, उनमें से उन किसानों की ही धान खरीदी जा सकी जिन किसानों ने शत-प्रतिशत बारदाना दिया। खरीदी केंद्र पीवी 39 में 18 किसानों का टोकन कटा था, लेकिन बारदाना खत्म हो जाने के कारण केवल 11 किसानों की ही धान खरीदी हो सकी। यह सभी छोटे किसान थे और बारदाना स्वयं लेकर आए थे।
क्षेत्र में अब भी 40 प्रतिशत से अधिक किसानों की खरीदी शेष है। बारदाने की समस्या शुरू हो गई है। पखांजूर के तीन खरीदी केंद्र में आज बारदाने समाप्त हो गए हैं। शुक्रवार को तीन खरीदी केंद्रों में बारदाने की समस्या शुरू हो जाएगी। सोमवार से तो लगभग सभी खरीदी केंद्रों में बारदाने समाप्त हो जाएगा। बांदे, कापसी लैम्पस में भी 15 जनवरी से बारदाना समाप्त हो जाएगा। क्षेत्र में जल्द बारदाने नहीं पहुंचे, तो इस वर्ष भी बड़ी संख्या में किसान धान बेचने से वंचित हो सकते हैं। विगत वर्ष भी धान खरीदी के दौरान बारदाना की समस्या के चलते किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा था।
उनकी ही खरीदी हो रही जो स्वयं बारदाने ला रहे : पखांजूर लैम्पस के प्रबंधक रतन हालदार ने बताया कि बारदाने की मांग की गई है। जब तक बारदाना नहीं आता, तब तक उन किसानों की धान खरीदी होती रहेगी, जो स्वयं बारदाना लेकर आ रहे हैं।

बारदाना खरीदकर लाए तब हुई खरीदी
धान बेच रहे किसान विधान मंडल, विजय मंडावी, रामलाल आंचला, सुधान्य राय आदि ने कहा कि उनका धान कम मात्रा में था। इस कारण वे बाजार से ही बारदाना खरीद लेकर आए। पहले ही धान खरीदी देर से शुरू होने और टोकन मिलने में परेशानी के कारण देर हो चुकी थी, अब बारदाना की समस्या के कारण और देर होती। इस कारण वे स्वयं बारदाना बाजार से खरीद लाए है और धान दे रहे हैं। किसानों ने बताया जैसे-जैसे बारदाने की मांग बढ़ रही है। वैसे- वैसे बाजार में बारदाने के रेट भी बढ़ने लगा है। वर्तमान में 30 से 35 रुपए पर बारदाना मिल रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें