रथयात्रा:सुहेला में इस बार हाथ ठेला नहीं नए रथ की सवारी करेंगे भगवान जगन्नाथ

सुहेलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
3 माह पहले बना जगन्नाथ मंदिर और नए रथ को अंतिम रूप देते पेंटर। - Dainik Bhaskar
3 माह पहले बना जगन्नाथ मंदिर और नए रथ को अंतिम रूप देते पेंटर।

सुहेला नगर में भगवान जगन्नाथ इस बार नए रथ की सवारी करेंगे। नए रथ की डेंटिंग पेंटिंग का कार्य अब अंतिम चरण में है। विदित हो कि प्रखर प्रज्ञा युवा समिति द्वारा बीते 17 साल से नगर में रथयात्रा निकाली जा रही है। समिति के अध्यक्ष पवन कुमार द्विवेदी ने बताया कि साधनों के अभाव में पहले भगवान को हाथ ठेला में बैठाकर नगर में रथयात्रा निकाली जाती थी परंतु इसी साल मार्च में जनसहयोग से भगवान जगन्नाथ का मंदिर बनवाया गया है और जनसहयोग से ही नए रथ की व्यवस्था भी की गई है।

उन्होंने बताया कि आगामी 1 जुलाई को इसी रथ से भगवान जगन्नाथ बहन सुभद्रा और बलभद्र भैया की रथयात्रा निकाली जाएगी जो सतबहिनीया चौक, महामाया चौक, गायत्री मंदिर, रामनगर मोहल्ला, तिगड्डा चौक, बर्फानी धाम, हनुमान मंदिर होते हुए वापस पुरानी बस्ती स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर में विराम लेगा।

यात्रा के दौरान श्रद्धालुजनों को गजा मूंग का प्रसाद वितरण किया जाएगा तथा दूर से दर्शन पूजा की छूट रहेगी।पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी इस यात्रा में शामिल होकर रथ खींचेंगे।

खबरें और भी हैं...