पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ग्रामीणों ने इस बार भी किया जबरदस्त विरोध:तीसरी बार भी नहीं हो सका खपराडीह सरपंच के खिलाफ मतदान

सुहेला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने पर खुशी मनाते खपराडीह के ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने पर खुशी मनाते खपराडीह के ग्रामीण।
  • सिमगा जनपद में होना था मतदान पर विरोध करने वाले पंच पहुंचे ही नहीं

पंचायती राज के इतिहास में तब नया अध्याय जुड़ गया जब खपराडीह ग्राम पंचायत के पंचों द्वारा सरपंच उर्मिला ध्रुव के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को पीठासीन अधिकारी को एक बार फिर खारिज करना पड़ा क्योंकि ग्रामीणों के जबर्दस्त विरोध के कारण पंच फिर मतदान स्थल सिमगा जनपद कार्यालय तक नहीं पहुंच पाए।

अविश्वास प्रस्ताव का विरोध करने वालों में पूर्व जनपद सदस्य शकुंतला बघमार, पूर्व सरपंच विनोद वर्मा, रमेश वर्मा, गजेंद्र वर्मा, तिलक वर्मा, मेहतर वर्मा, हेमंत बघमार, लिमेश बघेल सहित 500 से अधिक ग्रामीण शामिल थे। विदित हो कि अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के लिए तीन बार दिए गए समय में पहली बार पीठासीन अधिकारी ही अन्यान्य कारणों से उपस्थित नहीं हो पाए थे जबकि दूसरी बार सैकड़ों की संख्या में एकत्रित ग्रामीणों ने मतदान का पुरजोर विरोध किया था। निर्धारित समय पर उस दिन भी पंच उपस्थित नहीं हो सके थे।

उक्त पंचायत के पंचों ने गांव की जनता को विश्वास में लिए बिना ही आदिवासी महिला सरपंच पर विभिन्न अनियमितताओं के आरोप लगाते हुए अविश्वास प्रस्ताव का आवेदन दे दिया था। महिला सरपंच के खिलाफ अकारण अविश्वास प्रस्ताव लाया जाना वहां की जनता को नागवार लगा और उन्होंने पंचों के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया। हालांकि वहां पर पंचों का बहुमत था परंतु ग्रामीणों ने अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान का तीनों बार विरोध करते हुए सरपंच को पदच्युत होने से बचा लिया।

दो बार पहले भी सरपंच के समर्थन में उतर चुका है गांव
ज्ञात हो कि ग्रामीणों द्वारा गांव में होने वाले अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान का दो बार जबरदस्त विरोध किया गया था। इसे देखते हुए प्रशासन ने तीसरी बार 5 अप्रैल को सिमगा जनपद कार्यालय में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान कराने की रणनीति बनाई थी परंतु खपराडीह के ग्रामीणों ने वहां भी जाकर अविश्वास प्रस्ताव का जोरदार विरोध करते हुए प्रस्ताव को खारिज करने की मांग की और इधर अविश्वास प्रस्ताव लाने वाले पंच निर्धारित समय पर मतदान स्थल पर नहीं आ पाए। गांव की जनता द्वारा सरपंच का पुरजोर समर्थन एवं मतदान करने वाले पंचों के निर्धारित समय पर मतदान स्थल पर नहीं पहुंचने के कारण पीठासीन अधिकारी एसएल सिन्हा ने अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें