पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गड़बड़ी:धान तौलने समिति को मिलते हैं 9 रुपए/क्विंटल पर छिंदगढ़ में तीन रुपए/बोरा मजदूरी की हो रही वसूली

सुकमा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भास्कर ने मंगलवार व बुधवार को िछंदगढ़, कोडरीपाल व नेतानार धान खरीदी केंद्रों की पड़ताल की

जिले में संचालित 14 आदिम जाति सेवा सहकारी समिति के 16 धान खरीदी केंद्रों में 1 दिसम्बर से धान खरीदी जारी है। बारदाने के संकट के बीच जैसे-तैसे कर बुधवार शाम तक जिले में 2 लाख 21 हजार क्विंटल धान की खरीदी हो चुकी थी। वहीं खरीदी केंद्रों से महज 11.63 फीसदी 25 हजार 720 क्विंटल धान का उठाव मिलर्स व जिला विपणन द्वारा कर लिया गया था। भास्कर ने मंगलवार व बुधवार को िछंदगढ़, कोडरीपाल व नेतानार धान खरीदी केंद्रों की पड़ताल की। लगभग सभी जगह धान तौल में गड़बड़ी की बात सामने आई। समिति मेंं हमाली कर रहे मजदूर 40 किलो की एक बोरी में किसानों से एक से डेढ़ किलो धान ज्यादा तौल रहे हैं। यहीं नहीं वे किसानों ने प्रति बोरा 3 रुपए की हमाली भी वसूल रहे हैं। छिंदगढ़ खरीदी केंद्रों में धान बेचने पहुंचे किसानों ने बताया कि इस साल ही नहीं, पिछले साल भी सभी किसानों से धान तौलने प्रति बोरा 3 रुपए के हिसाब से पैसे लिए गए। जबकि धान तौल करने के लिए शासन की ओर से समिति को 9 रुपए प्रति क्विंटल दिए जाते हैं। जानकारी नहीं होने के अभाव में किसान इस बात का विरोध भी नहीं कर रहे। धान बेचने में होने वाली परेशानियों से बचने के लिए वे खुशी-खुशी हमालों को 3 रुपए प्रति बोरी के हिसाब से भुगतान कर रहे हैं। इस संबंध में पूछे जाने पर समिति प्रबंधक लवन सिंह कश्यप ने कहा कि ये किसान व हमालों के बीच की बात है। मैंने किसानों से पैसा लेने को नहीं कहा है। धान तौल करने के लिए शासन की ओर से उन्हें प्रति क्विंटल 9 रुपए मिलते हैं। समिति के खाते में पैसे आते ही वे मजदूरों को नगद भुगतान कर देते हैं। इसकी पहली किस्त की राशि लगभग एक लाख रुपए आने की बात उन्होंने कही।

किसानों से अब तक तीन लाख से ज्यादा वसूले
छिंदगढ़ इलाके के किसानों की माने तो धान खरीदी की शुरुआत यानी 1 दिसम्बर से ही छिंदगढ़ धान खरीदी केंद्र में हमाली काम रहे मजदूर धान तौलने के बदले 3 रुपए प्रति बोरा के हिसाब से पैसे ले रहे हैं। एक बोरा में 40 किलो धान तौल किया जाता है। इस तरह धान तौल करने प्रति क्विंटल 7.50 रुपए किसानों से वसूला जा रहा है। छिंदगढ़ धान उपार्जन केंद्र में अब तक लगभग 42 हजार क्विंटल धान की खरीदी की गई है। इस तरह किसानों से लगभग 3 लाख 15 हजार रुपए की वसूली की जा चुकी है।

जानिए, किस किसान से कितने पैसे वसूले
छिंदगढ़ खरीदी केंद्र में धान बेचने पहुंचे पोंदूम मिसीरास के किसान हड़मा ने बताया कि उसने 52 बोरी में 20.80 क्विंटल धान बेचा। धान तौल करने के बदले उससे 160 रुपए मजदूरी का भुगतान किया। दुआरीपारा के किसान बुधराम नाग ने बताया कि 65 बोरी धान तौलने के 195 रुपए उसने दिए।

नेतानार में बारदाने की कमी, आधे किसान लौटे
नेतानार धान खरीदी केंद्र में बारदाने की कमी के कारण आधे किसानों को धान बेचे बगैर लौटना पड़ा। बुधवार सुबह केंद्र में लगभग 1500 बारदाना था। जो किसान पहले आए उन्होंने आपस में बारदान बांट लिया। नेतानार खरीदी केंद्र में बुधवार को 1400 क्विंटल का किसानों को टोकन दिया गया था।

किसानों से पैसा लेना गलत, दिखवाता हूं: नोडल अफसर
खरीदी केंद्र में धान बेचने आए किसानों से धान तौल करने के 3 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से पैसे वसूलने के सवाल पर नोडल अफसर गौरव शर्मा ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है। किसानों से धान तौल करने पैसा लेने को गलत कहते हुए नोडल अफसर ने कहा कि दिखवाता हूं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें