कार्रवाई की मांग:जानकारी मांगने पर दुर्व्यवहार, सहकर्मी को हटाने की रखी मांग

छुईखदानएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अपने ही कर्मचारियों के साथ अभद्र व्यवहार करने वाले गैर लिपिक कर्मचारी को तत्काल पद से हटाने के लिए लघु वेतन कर्मचारी संघ छुईखदान ने पत्र जारी किया है। संघ के छुईखदान ब्लाॅक अध्यक्ष की कार्रवाई की मांग पर संघ के जिला अध्यक्ष रघुवीर तिवारी ने संबंधित विभाग के प्रमुख कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग छुईखदान को पत्र लिखा है। पत्र के माध्यम से संघ की ओर से अध्यक्ष ने स्पष्ट किया है कि यदि 15 नवंबर तक कर्मचारियों से अभद्र व्यवहार करने वाले गैर लिपिक कर्मचारी को उनके मूल पद पर वापस नहीं भेजा गया तो 16 नवंबर को संघ की बैठक कर सैकडों कर्मचारियों के साथ मामले को कलेक्टर से विभाग प्रमुख की भी शिकायत करेंगे।

जल संसाधन संभाग छुईखदान में कार्यरत श्रमिकों का वेतन जमा नहीं हुआ। जवाबदार प्रभारी समयपाल के साथ हुए उनके चर्चा का उल्लेख अपने जिला अध्यक्ष को लिखे पत्र में बताया गया कि उनकी ओर से केवल यही पूछा गया था कि न्यायालयीन श्रमिकों का वेतन त्योहार में जमा नहीं हो सका। इस पर समयपाल मोबाइल पर ही आग बबूला हो गए और कहा कि तुम दो कौड़ी के मजदूर बहुत नेतागिरि करते हो, थाने में बंद करवाकर खूब पिटवाउंगा। ऐसे व्यवहार को लेकर जिला अध्यक्ष को अवगत कराने व कार्रवाई के लिए गैर लिपिक कर्मचारियों को हटाने की मांग की गई।

जांच कर कार्रवाई करेंगे
जल संसाधन संभाग के प्रभारी कार्यपालन अभियंता मनोज पराते ने कहा कि संघ का पत्र प्राप्त हुआ है। संबंधित को नोटिस जारी किया गया है। जांच उपरांत कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...