बैठक में बनाई रणनीति:16 को प्रदर्शन में शामिल होंगे भाजपाई

डोंगरगांव13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर में विगत दिनों मंडल भाजपा की बैठक हुई। इसमें प्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार द्वारा जन आंदोलन को कुचलने के लिए लाए गए काले कानून के विरोध में भारतीय जनता पार्टी 16 मई को जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन करेगी।

इसमें डोंगरगांव विस. क्षेत्र के 500 कार्यकर्ता अपनी उपस्थिति दर्ज काएंगे। बैठक में प्रमुख वक्ता जिला महामंत्री दिनेश गांधी ने कहा कि देश में पहला आपातकाल कांग्रेस ने लगाया था, जो आज तक भारतीय इतिहास में एक काले अध्याय के रूप में याद किया जाता है। अब भूपेश बघेल सरकार भी उसी नक्शे कदम पर चल रही है और प्रदेश में घोषित रूप से आपातकाल लागू कर रही है। अपने आपको जनहितैषी बताने वाली सरकार अलग-अलग विभाग व संवर्ग के कर्मचारियों, आदिवासियों, किसानों सहित भाजपा के भूपेश सरकार विरोधी आंदोलन से डरकर प्रदेश में काला कानून लागू कर रही है। पूर्व सांसद प्रदीप गांधी ने कहा कि कांग्रेस के तीन साल में जनता को वादाखिलाफी, झूठ, धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं मिला।

बैठक में राजेन्द्र सिंह ठाकुर, टामेश्वर साहू, निरेन्द्र साहू, रामकुमार गुप़्ता, संतोष यादव आदि ने भी अपने विचार रखे। बैठक में प्रमुख रूप से सोमवार को राजनांदगांव जिला मुख्यालय में आयोजित धरना प्रदर्शन में अधिक से अधिक संख्या में कार्यकर्ताओं को पहुंचने का आह्वान करते हुए रणनीति बनाई गई। इसके लिए सेक्टरवार तथा ग्रामवार प्रमुख पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई। बैठक में भाजपा, भाजयुमो, महिला मोर्चा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...