सीजी बोर्ड में बेटियाें ने बढ़ाया मान:10 वीं: जिले से 5 छात्राओं ने स्टेट के टॉप टेन में बनाई जगह,12वीं: जिले की मेरिट में भी एक छात्रा

राजनांदगांव13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दामिनी वर्मा का मुंह मीठा कराते परिजन। - Dainik Bhaskar
दामिनी वर्मा का मुंह मीठा कराते परिजन।

कोविड संक्रमण की वजह से दो साल तक लॉकडाउन के चलते स्कूल बंद थे। स्कूल की बजाय बच्चों ने ऑनलाइन पढ़ाई की और इसी सिस्टम से परीक्षा भी दी थी। इसके चलते जिले का परिणाम बीते दो वर्षों से बेहतर आ रहा था। 90 प्रतिशत बच्चे प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए थे। इस बार ऑफलाइन परीक्षा की चुनौती थी पर 9वीं से प्रमोट होकर सीधे 10 वीं में पहंुचे बच्चों ने बोर्ड की परीक्षा की बेहतर तैयारी की। इसी वजह से कक्षा दसवीं और बारहवीं बोर्ड का परिणाम संतोषजनक रहा।

कक्षा 10वीं में 76.16 और 12 वीं में 82.20 प्रतिशत स्टूडेंट उत्तीर्ण हो गए हैं। लंबे समय के बाद कक्षा दसवीं में सरकारी स्कूल के पांच और निजी स्कूल से एक स्टूडेंट ने प्रदेश की टॉपटेन की सूची में जगह बनाई है। वहीं 12वीं में एक छात्रा जिले में टॉपटेन की सूची में है। शिक्षाविदों ने इस परिणाम को देखकर कहा कि बच्चे अब परिस्थितियों के साथ खुद को ढालते हुए पढ़ाई पर फोकस कर रहे हैं। यही कारण है कि दसवीं बोर्ड में जिले से 6 बच्चों ने टॉप में जगह बनाई है। जिला शिक्षा अधिकारी आरएल ठाकुर ने बताया कि स्कूल बंद होने के बाद भी बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई की। मोहल्ला क्लास भी जुड़े रहे।

परीक्षा परिणाम जारी: 9वीं से प्रमोट होकर 10वीं में आए स्टूडेंट्स ने दिखाया दम

98.17% दामिनी ने रोज 5 घंटे की पढ़ाई
खैरझिटी स्कूल की छात्रा दामिनी पिता जीवन वर्मा दसवीं बोर्ड की परीक्षा में प्रदेश की टॉपटेन सूची में दूसरे नंबर पर है। दामिनी ने 98.17 प्रतिशत लाकर प्रदेश की टॉप सूची में दूसरे स्थान पर रही है। दामिनी ने भास्कर को बताया कि पिता मजदूरी करते हैं। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बाद भी पिता पढ़ाई करा रहे हैं। बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी के दौरान रटने की बजाय समझने का प्रयास किया। दिन में 5 घंटे पढ़ाई की। लगातार टीचर्स के संपर्क में रही और उनके मार्गदर्शन में तैयारी की। दामिनी का सपना है कि वह आगे चलकर अंतरिक्ष विज्ञान की पढ़ाई करे।

राजनांदगांव. दामिनी वर्मा का मुंह मीठा कराते परिजन।
राजनांदगांव. दामिनी वर्मा का मुंह मीठा कराते परिजन।

97% किसान के बेटे ने किया कमाल
गंडई| दसवीं बोर्ड की परीक्षा में धोधा हाईस्कूल गंडई के छात्र डोगेश्वर साहू ने प्रावीण्य सूची में 9वांस्थान प्राप्त किया है। पिता सुरेश साहू साधारण कृषक हैं। माता लता बाई घरेलू महिला है । डोंगेश्वर ने कुल 600 अंक में 582 अंक प्राप्त किया है । इस प्रकार 97 प्रतिशत अंक अर्जित कर प्रथम दस छात्रों में अपना स्थान बनाया है। डोगेश्वर ने बताया कि वह उच्च स्तर पर पढ़ाई कर गांव का नाम रौशन करना चाहता है।

97.33% डॉक्टर बनना चाहती है शीतल
चौकी क्षेत्र के चिखली स्कूल की छात्रा शीतल पिता धनेश कुमार ने दसवीं बोर्ड की परीक्षा में 97.33 प्रतिशत अंक लाकर प्रदेश की टॉपटेन सूची में 7 वां स्थान प्राप्त किया है। शीतल ने भास्कर को बताया कि वह तोयागोंदी गांव की रहने वाली है। पड़ोस के गांव चिखली स्कूल में पैदल आना-जाना करती थी। नियमित 6 घंटे की पढ़ाई की। बताया कि स्कूल बंद होने पर मोहल्ला क्लास में पढ़ाई करती थी। पढ़ाई के लिए टाइम मैनेजमेंट तय कर रखा था। शीतल ने बताया कि वह आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती है। इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी गई है।

परिजनों ने परिणाम सुनने के बाद आरती उतारी।
परिजनों ने परिणाम सुनने के बाद आरती उतारी।

92.80% अंजू जिले में पहले नंबर पर
कक्षा बारहवीं में छुईखदान ब्लाक के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय साल्हेकला की अंजु साहू पिता देवनाथ साहू ने जिले मेंं पहला स्थान प्राप्त किया है। अंजू रहने वाली दुर्ग जिले के साल्हेखुर्द की पर बॉर्डर से लगे गांव साल्हेकला स्कूल में पढ़ाई करने आती है। बायो ग्रुप की अंजू ने बताया कि वह डॉक्टर बनने का सपना लेकर पढ़ाई कर रही है। पिता किसान हैं माता गृहिणी है।

इन्होंने भी बताया मेरिट सूची में स्थान
दसवीं बोर्ड की परीक्षा में चिचोला क्षेत्र के ग्राम झितराटोला निवासी कृष कुमार पिता बोधन यादव ने प्रदेश की टॉपटेन सूची में 3 स्थान प्राप्त किया है। कृष पढ़ाई में शुरू से ही होशियार है। इसी तरह अर्जुनी की वैशाली पिता मनोज साहू ने 97 प्रतिशत अंक प्राप्त किया है। राजनांदगांव स्थित वेसलियन हिंदी माध्यम स्कूल की दसवीं की छात्रा मुस्कान गजिभये ने 97.00 प्रतिशत लाकर प्रदेश की टॉपटेन सूची में 9 वां स्थान बनाया है।

गौरवशाली उपलब्धि को बनाए रखें: सिन्हा
छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर द्वारा आयोजित हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल की परीक्षा में प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने शुभकामनाएं दी है। कलेक्टर ने विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि अपनी इस गौरवपूर्ण उपलब्धि से उन्होंने जिले का नाम रोशन किया है। आगे भी इसी तरह अपनी उत्कृष्ट प्रतिभा से सफलता के नए आयाम प्राप्त करें।

खबरें और भी हैं...