मां बम्लेश्वरी मंदिर ट्रस्ट समिति चुनाव:15 में से 9 ट्रस्टी मातेश्वरी पैनल के कल ट्रस्ट को मिलेगा नया अध्यक्ष

डोंगरगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मां बम्लेश्वरी मंदिर ट्रस्ट समिति की सत्ता पर मातेश्वरी पैनल का कब्जा हो गया है। 9-6 की बहुमत लेकर मातेश्वरी सत्ता में बैठेगी। ट्रस्ट के नए अध्यक्ष व कोषाध्यक्ष का निर्वाचन रविवार को होगा। जिसमें नवनिर्वाचित 15 ट्रस्टी वोट करेंगे। मातेश्वरी पैनल से 9 ट्रस्टी जीतकर आए हैं। इसलिए इस पैनल से अध्यक्ष बनना तय है। संरक्षक श्रेणी में महज चार वोटों से जीतकर आए मनोज अग्रवाल अध्यक्ष बनेंगे। क्योंकि मातेश्वरी पैनल चुनाव से पहले ही मनोज को अध्यक्ष प्रोजेक्ट कर प्रचार कर रही थी। वहीं कोषाध्यक्ष उम्मीदवार कौन होगा यह तस्वीर अभी साफ नहीं हुई है।

इधर साधारण श्रेणी की काउंटिंग गुरुवार रात आठ बजे शुरू हुई। जो सुबह चार बजे तक चलती रही। चार बजे तीन निर्वाचित ट्रस्टियों के नाम की घोषणा निर्वाचन अधिकारी ने की। साधारण श्रेणी में भी मातेश्वरी पैनल का दबदबा रहा। हालांकि एक उम्मीदवार को महज दो वोट से भैयाजी पैनल से शिकस्त मिल गई। संरक्षक व आजीवन श्रेणी में मातेश्वरी पैनल को बढ़त मिल गई थी। साधारण श्रेणी से दो ट्रस्टी जीतने के बाद मातेश्वरी पैनल को 9-6 की बहुमत मिल गई और सत्ता परिवर्तन करने में सफल हो गए।

आजीवन श्रेणी में मातेश्वरी पैनल का 5-0 से कब्जा
आजीवन श्रेणी में मातेश्वरी पैनल की एकतरफा जीत हुई है। जबकि भैयाजी पैनल के सभी पांच उम्मीदवार बुरी तरह से हार गए। इस पैनल से सबसे अधिक वोटों से संजय श्रीवास्तव 478, सीपी मिश्रा 464, पीतांबर स्वामी 456, प्रकाश बिंदल 454 व महेंद्र परिहार 434 मतों से विजयी हुए। वहीं साधारण श्रेणी से सौमित्र सोनी, वीरेंद्र साहू, अशोक साहू, प्रमोद सिंह ठाकुर व गौतम चोपड़ा चुनाव हार गए।

कल अध्यक्ष व कोषाध्यक्ष निर्वाचित होकर आएंगे
मुख्य निर्वाचन अधिकारी जे आर बरिहा ने अध्यक्ष व कोषाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। इसके मुताबिक 26 जून को दोनों पद के लिए चुनाव होगा। मातेश्वरी पैनल बहुमत में है और अध्यक्ष पद के लिए मनोज अग्रवाल नामांकन भरेंगे। वहीं भैयाजी पैनल बहुमत में नहीं है, इसलिए उम्मीदवार उतारने की संभावना काफी कम है। दोपहर दो बजे तक निर्वाचन कार्य पूरा हो जाएगा। नवनिर्वाचित ट्रस्टियों को प्रमाण-पत्र वितरित किया जाएगा।

दो उम्मीदवारों के बीच अंत तक जारी रही टक्कर
साधारण श्रेणी की गिनती शुरू होने के बाद मातेश्वरी पैनल के बबलू शांडिल्य व संजीव गोमास्ता शुरुआत से ही बढ़त बनाए हुए थे। जबकि मातेश्वरी पैनल के गौतम चंद चोपड़ा व भैयाजी पैनल के कौतुभ हनी गुप्ता के बीच शुरू से आखिरी तक टक्कर चलती रही। लेकिन हनी ने गौतम को महज दो वोटों से शिकस्त देकर जीत अपने नाम कर लिया। सबसे अधिक वोट मातेश्वरी पैनल के बबलू शांडिल्य को 826 व संजीव गोमास्ता को 802 व भैयाजी पैनल के हनी गुप्ता को 666 वोट मिले और जीत दर्ज की। प्रदेश के सबसे बड़े धार्मिक ट्रस्ट के 15 ट्रस्टियों के चुनाव को लेकर महीने भर से लोगों की सक्रियता बनी हुई है।

खबरें और भी हैं...