मरीज परेशान:ढाबा के उप स्वास्थ्य केंद्र में लटका है ताला

गंडई पंडरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर से महज पांच किमी दूरी स्थित ग्राम ढाबा उप स्वास्थ्य केंद्र में लंबे समय से ताला लटका हुआ है। इसके चलते अंचल के मरीजों को इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है। ग्रामीण ने कृतबांस में आयोजित जनसमस्या निर्वाण शिविर में उप स्वास्थ्य केंद में शीघ्र एएनएम नियुक्त करने की गुहार लगाई है। इसके बावजूद शासन-प्रशासन ने कोई सकारात्मक पहल नहीं की।

इससे ग्रमीणों में आक्रोश है। अंचल के ग्रामीणों ने बताया कि उप स्वास्थ्य केंद्र ढाबा में कोई सुविधा नहीं मिल रही है। यहां लगभग आठ गांव के मरीरज इलाज करवाने आते हैं। लेकिन वर्तमान में एक भी कर्मचारी नहीं होने के कारण स्वास्थ्य केंद्र में ताला लटका हुआहै। इसके चलते मरीजों को इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है।

आंदोलन की दी चेतावनी
अंचल के ग्रामीणों ने जनसमस्या निवारण शिविर में एएनएम नियुक्त करने की मांग की है, ताकि स्वास्थ्य सेवाएं बहाल हो सके। ग्रामीणों ने शीघ्र मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। कुछ माह पूर्व एएमएम सेवानिवृत्त हुई थी। इसके बाद एक कर्मचारी की नियुक्ति हुई थी लेकिन वे भी दो महीने बाद पदोन्नत हो गई तब से स्वास्थ्य केंद्र में ताला लटका हुआ है। विभाग कोई पहल नहीं कर रहा है।

गर्भ‌वतियों के साथ महिला मरीजों की परेशानी बढ़ी
स्वास्थ्य केंद्र में ताला लटके होने के कारण प्रसव के लिए महिलाओ‌ं को परेशानी हो रही है। ग्रामीणों की शिकायत है कि राज्य सरकार बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराए जाने का ठिंढोरा पीटती है लेकिन यहां के ग्रमीण इलाज के लिए मोहताज हैं।

उच्च अधिकारियों को सूचित किया है: बीएमओ
छुईखदान बीएमओ मनीष बघेल ने कहा कि जिसकी पोस्टिंग की गई थी वह प्रमोशन होकर कवर्धा जिला चली गई है। यहां नई नियुक्ति के लिए उच्च अधिकारियों को पहले ही सूचित किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...