मदद:नक्सली काट देते थे पाइप लाइन पुलिस सुरक्षा में किया अंडरग्राउंड

गादीरासएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाइप लाइन में कांंक्रीट करते एस्सार कंपनी के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
पाइप लाइन में कांंक्रीट करते एस्सार कंपनी के कर्मचारी।

गादीरास थाना क्षेत्र के अति संवेदनशील गांव परिया में आए दिन नक्सलियों द्वारा एस्सार के पाइप लाइन को निशाना बनाया जाता रहा है। पहाड़ियों से घिरे हुए इस गांव से ही एस्सार की पाइप लाइन गुजरी है। कई जगहों पर पाइप लाइन के ओपन होने से नक्सलियों द्वारा उसे आए दिन काट दिया जा रहा है। इसके जगह-जगह क्षतिग्रस्त होने से एस्सार को काफी नुकसान हो रहा है। इस नुकसान से बचाने के लिए रविवार को एस्सार के कर्मचारी और ग्रामीण पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और पाइप लाइन का मेंटेनेंस किया।

ग्रामीणों ने बताया कि ओपन पाइप लाइन को सीमेंट से अंडर ग्राउंड किया जा रहा है। जिसमें दो दिन लगेंगे। एस्सार कंपनी के लोगों की सुरक्षा में गादीरास थाना प्रभारी रितेश यादव अपने दल बल के साथ एक दिन जगलों में उनके साथ रहे। सोमवार शाम को एस्सार कंपनी द्वारा काम खत्म कर जवानों के साथ सुरक्षित गादीरास पहुंचे।

एस्सार कंपनी के लोगों ने ग्रामीणों की मांग पूरी की

परिया गांव में ग्रामीणों को पेयजल की सुविधा देने के लिए यहां पर पीएचई ने हैंडपंप तो लगा दिया है। लेकिन नीचे का प्लेटफार्म नहीं बनाया था, जिसको लेकर ग्रामीण परेशान थे। पाइप लाइन का मेंटेनेंस करने के बाद लौट रहे ग्रामीणों ने एस्सार कंपनी और थाना प्रभारी से हैंडपंप की प्लेटफार्म बनाने की बात कही।

उनकी बात सुन कंपनी और थाना प्रभारी सहमत हुए और ग्रामीणों की मदद से यह काम पूरा करवाया। थाना प्रभारी ने कहा कि ग्रामीणों को बारिश में कीचड़ के बीच हैंडपंप से पानी नहीं भरना पड़ेगा। इसके साथ ही हैंडपंप के पास पानी जमा नहीं होगा।

खबरें और भी हैं...