सीईओ ने जवानों का बढ़ाया हौसला:आपदा प्रबंधन ने बाढ़ से बचाने की मॉक ड्रिल

सूरजपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कलेक्टर इफ्फत आरा के निर्देश पर सूरजपुर स्थित देवीपुर बांध में बाढ़ आपदा राहत दल के जवानों ने जिले में उपलब्ध सभी बाढ़ सामग्री का परीक्षण व मॉक ड्रिल की। जिला पंचायत सीईओ लीना कोसम, संयुक्त कलेक्टर शिव बनर्जी, एसडीएम रवि सिंह ने जिला सेनानी नगर सेना संजय गुप्ता की मौजूदगी में मॉक ड्रिल का अवलोकन और निरीक्षण किया।

लीना कोसम ने बाढ़ आपदा व बचाव की टीम को स्वयं का बचाव करते हुए आपातकालीन सेवा कर समय में बेहतर प्रबंधन कर जोखिम में फंसे लोगों की जान बचाने हौसला अफजाई की। इस दौरान बचाव दल के जवानों ने आपदा के समय व्यक्ति को पानी के भीतर खोजने, उसे सुरक्षा पूर्वक लाइव बोट तक लाने का ड्रिल प्रस्तुत की। इसके साथ ही बचाव के दौरान उपयोग होने वाले सभी उपकरणों का डेमो भी किया। इसमें सही तरीके से लाइफ जैकेट पहनना, डूबते व्यक्ति को तैराक द्वारा बचाना, अंडर वाटर ड्राइविंग कर पानी के भीतर व्यक्तियों को पता लगाने की भी ड्रिल की। इसके अलावा जवानों ने परंपरागत तरीके से निर्मित गांव में उपलब्ध सामानों से बचाव के उपकरण तैयार करने और बचाने के तरीके भी बताएं, जैसे खाली बोतल से तैयार लाइफ जैकेट, थर्माकोल से तैयार लाइफ जैकेट, घरेलू उपयोग में आने वाले डेकची से तैयार लाइफ जैकेट, टीना डब्बे से बनाए गए उपकरण से भी बाढ़ के समय बचा जा सकता है। इस दौरान मोटर बोट, चेन सा, आस्का लाइट, फुल बॉडी हार्नेस, लाइफ ब्वॉय, लाइफ जैकेट, स्ट्रेचर, रस्सी, फर्स्ट एड बॉक्स आदि का प्रदर्शन व उपयोग के तरीके बताए गए।

कोई भी घटना होने पर इन नंबरों पर करें संपर्क
जिला सेनानी नगर सेना अधिकारी संजय गुप्ता ने बताया कि बाढ़ बचाव दल लगभग 20 नगर सेना के जवान बाढ़ आपदा की स्थिति में सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे ड्यूटी पर तैनात रहते हैं। उन्होंने बताया कि किसी प्रकार की घटना होने पर जनता 112 नंबर पर संपर्क के अलावा जिला कंट्रोल नंबर 07775-266116 व नगर सेना कार्यालय नंबर 0777-5299098 और बाढ़ बचाव प्रभारी 99775 34037 पर भी संपर्क कर सूचना दी जा सकती है।

खबरें और भी हैं...