घोटाले का पौधराेपण:10 लाख खर्च कर 10 हेक्टेयर में 27 सौ पौधे रोपे, एक भी नहीं बचे

सूरजपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सूरजपुर जिले के केतका सर्किल में एक साल पहले वन विभाग ने 10 हेक्टेयर में 10 लाख से अधिक खर्च कर 27 सौ से अधिक पौधे लगाए थे, इसके बाद फेंसिंग भी की गई, लेकिन देखरेख के अभाव में पौधे नहीं बच सके।

वहीं अफसर खुद को इससे अनजान बता रहे हैं और देखने दिखवाने की बात कर जिम्मेदारी से बचने की कोशिश में है। सूरजपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत केतका सर्किल के पोड़ी परिसर कक्ष क्रमांक 1760 में 2021 में मिश्रित प्रजाति के पौधे वन विभाग लाखो खर्च कर यहां कैंपा मद से बरगद, आम, जामुन, कटहल सहित कुल 8 प्रकार के पौधों का रोपण किया गया था, लेकिन अब वहां पौधे नहीं हैं। इसके पीछे की वजह कागजों में खाद, कीटनाशक की आपूर्ति करना है। वहीं सिंचाई की व्यवस्था नहीं करनी है। वहीं पोल फेंसिंग कंटीली तार से 10 हेक्टेयर वन भूमि को फेंसिंग की गई थी।

स्थानीय ग्रामीण बताते हैं कि जब पौधरोपण किया था, तब पौधों की स्थिति बेहतर थी। हमें लगा था कि पौधा तैयार होंगे तो हमें फलों का लाभ मिलेगा, लेकिन अब तो पौधे ही जिंदा नहीं है, तो लाभ का तो सवाल ही नहीं है, जबकि विभाग सुरक्षा करने के नाम से चौकीदार भी नियुक्त किया है।

खबरें और भी हैं...