• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Faridabad
  • Bhaskar Exclusive: Railways Will Now Contact Industries, Will Help In Delivering Goods To Any Corner Of The Country At Any Time, Time And Cost Will Be Saved

उद्योगों के लिए राहत भरी खबर:रेलवे अब उद्योगों से करेगा संंपर्क; देश के किसी भी कोने में किसी भी समय सामान पहुंचाने में करेगा मदद, समय की होगी बचत

फरीदाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रेलवे लोडेड ट्रक, जेसीबी को वैगन में लोडकर संबंधित स्थान तक पहुंचाएगा - Dainik Bhaskar
रेलवे लोडेड ट्रक, जेसीबी को वैगन में लोडकर संबंधित स्थान तक पहुंचाएगा

फरीदाबाद औद्योगिक नगरी के लिए राहत भरी खबर है। रेलवे ने उद्योगों के सभी प्रकार के उत्पाद को देश के एक कोने से दूसरे कोने तक पहुंचाने की योजना बनाई है। इससे समय की बचत के साथ ट्रांसपोर्ट खर्च में भी कमी आएगी। इस योजना से सड़कों पर हैवी वाहनों का लोड भी कम हो जाएगा। यहीं नहीं रेलवे लोडेड ट्रक को भी वैगन में लोडकर संबंधित स्थान तक पहुंचाएगा। दिल्ली डिवीजन के रेल अधिकारियों ने फरीदाबाद, गुड़गांव, पलवल, सोनीपत, पानीपत समेत एनसीआर के उद्योगों से संपर्क करना शुरू कर दिया है।

पिछले एक सप्ताह में रेलवे फरीदाबाद से गोहाटी, बैंगलुरू, दानापुर, हैदराबाद, विजयवाड़ा, विशाखापट्नम, चेन्नई, रायपुर समेत कई जगहों पर उत्पाद पहुंचा चुका है। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि एक ट्रक को फरीदाबाद से मुंबई भेजने में 5 से 6 दिन लगते हैं। और 65 से 70 हजार रुपए खर्च आता है। लेकिन रेलवे से माल भेजने में कुल खर्च 40 से 45 हजार रुपए खर्च होंगे और महज 30 घंटे में माल पहुंच जाएगा।

फरीदाबाद स्टेशन पर रेलवे कोच में लादा जा रहा लोडेट ट्रक
फरीदाबाद स्टेशन पर रेलवे कोच में लादा जा रहा लोडेट ट्रक

उद्योग सभी प्रकार के उत्पाद भेज सकेंगे

फरीदाबाद-पलवल सेक्शन के ट्रैफिक इंस्पेक्टर कुमार घनश्याम ने बताया कि औद्योगिक संस्थान अपने सभी प्रकार के उत्पाद को रेलवे के जरिए एक स्थान से दूसरे स्थान तक भिजवा सकते हैं। खासकर जेसीबी,ट्रैक्टर, क्रेन के अलावा घरेलू उत्पाद, गारमेंट और अन्य सामानों को ले जाने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि अभी तक सामान भेजने के लिए कम से कम 40 बोगी बुक करानी होती थी। लेकिन अब ऐसा नहीं है। उद्यमी को जितनी बोगी की जरूरत होगी उतनी उपलब्ध कराई जाएगी।

लोडेड ट्रक को भी पहुंचाने की योजना

टीआई ने बताया कि रेलवे ने लोडेड ट्रक को भी पहुंचाने की व्यवस्था की है। यानि ट्रक, उद्योगों से माल लोड कर स्टेशन पहुंचेगा और उसे बोगी में सीधे लोडकर संबंधित स्थान तक भिजवाया जाएगा। साथ ही कहा कि ट्रकों को लोड करने के लिए रेलवे ने डीबीकेएम बोगी की व्यवस्था की है। वहीं दिल्ली डिवीजन ने सभी औद्योगिक जगहों पर व्यवस्था शुरू कर दी है।

अधिकारी कर रहे उद्योगपतियों से संपर्क

बता दें कि अभी उद्योगपतियों को अपने सामान दूसरे राज्यों में भेजने के लिए रेलवे से संपर्क करना पड़ता था। लेकिन अब रेलवे अधिकारी खुद उद्योगपतियों से संपर्क कर उनके उत्पाद की बुकिंग कर संबंधित स्थानों तक पहुंचाने की व्यवस्था करेंगे। इसके लिए रेलवे की क्षेत्रीय प्रबंधक भावना जैन अपनी टीम के साथ औद्योगिक संस्थानों में जाकर उत्पाद रेलवे से भिजवाने पर जोर दे रही हैं। रेल अधिकारियों का दावा है कि रोड ट्रांसपोर्ट की अपेक्षा रेलवे से सामान पहुंचाने में 40 से 50 फीसदी तक खर्च में कमी आएगी।

उत्पाद भेजने के लिए यहां करें संपर्क

उद्योगपतियों को अपने सामान भिजवाने के लिए रेल अधिकारियों ने स्टेशन अधीक्षकों के नंबर भी जारी किए हैं। कोई भी उद्यमी सामान भिजवाने के लिए ओल्ड फरीदाबाद स्टेशन अधीक्षक के नंबर 9717634322, न्यूटाउन अधीक्षक 9717634323, बल्लभगढ़ अधीक्षक 9729531930, असावटी अधीक्षक 9729531955, पलवल अधीक्षक 9729531931 पर संपर्क कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...