आज से नवरात्र, फल खाकर लगवाएं टीका:वैक्सीनेशन में बदलाव, अब 45वें साल में प्रवेश करने वाले लोग भी लगवा सकेंगे टीका

फरीदाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद. बिहार की पटना निवासी 97 वर्षीय गिरीश देवी बीके अस्पताल में वैक्सीन लगवाते हुए। - Dainik Bhaskar
फरीदाबाद. बिहार की पटना निवासी 97 वर्षीय गिरीश देवी बीके अस्पताल में वैक्सीन लगवाते हुए।
  • जनवरी 2022 को उम्र 45 साल पूरी होनी चाहिए
  • सीएमओ ने इस बारे में जारी किया आदेश, स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाइन का दिया हवाला

कोरोना वैक्सीनेशन उत्सव के साथ ही स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण में थोड़ा बदलाव भी किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाइन के अनुसार अब 45वें साल में प्रवेश करने वाले लोग भी कोरोना वैक्सीन लगवा सकते हैं। सीएमओ ने इस बारे में सभी वैक्सीनेशन सेंटरों को निर्देश भेजकर जानकारी दी है।

यही नहीं स्वास्थ्य विभाग ने शहरी क्षेत्र में रहने वाले बुजुर्गों को सेंटर तक लाने ले जाने के लिए 50 ई रिक्शा भी उपलब्ध कराए हैं। जिससे बुजुर्गों को सेंटर पर आने-जाने में कोई असुविधा न हो। लेकिन यह सुविधा सिर्फ उन्हीं को मिलेगी जिनके घर में कोई लाने ले जाने वाला नहीं होगा। इसके लिए कोरोना वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डॉ. रमेशचंद्र के मोबाइल पर संपर्क किया जा सकता है।

जिले में टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक अभी तक 2.50 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। सीएमओ डॉ. रणदीप सिंह पूनिया ने बताया कि कोरोना वैक्सीनेशन उत्सव के दौरान 14 अप्रैल तक प्रतिदिन 10 हजार लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य दिया गया है। फरीदाबाद में इससे अधिक का टीकाकरण हो रहा है।

उन्होंने यह भी बताया कि स्वास्थ्य विभाग की गाइड लाइन के अनुसार जो व्यक्ति 45वें साल में प्रवेश कर गया है वह भी किसी भी सेंटर पर जाकर टीका लगवा सकता है। बशर्ते जनवरी 2022 तक उसकी उम्र 45 पूरी होनी चाहिए। उन्होंने इस बारे में सभी टीकाकरण सेंटरों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की अध्यक्ष डॉ. पुनीता हसीजा ने बताया कि वैक्सीनेशन खाली पेट रहकर नहीं कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि मंगलवार से नवरात्र शुरू हो रहे हैं। ऐसे में बड़ी संख्या में लोग व्रत भी रहेंगे। उन्होंने कहा कि व्रत रखने वाले लोग भी फल फूल खाकर अथवा व्रत का भोजन लेकर टीका लगवा सकते हैं। इसमें किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी। बशर्ते शराब का सेवन करने से बचें।

बुजुर्गों एवं महिलाओं को मिलेगी रिक्शा की सुविधा

97 वर्षीय महिला ने लगवाया टीका

मूलरूप से बिहार के पटना निवासी 97 वर्षीय महिला गिरीश देवी बीके अस्पताल में सेक्टर 46 निवासी अपनी पोती स्मिता आनंद के साथ पहुंचकर टीका लगवाया। इनकी 80 वर्षीय बेटी मिथिलेस नंदिनी, 72 वर्षीय रानी, 62 वर्षीय बेटी उमा शर्मा पहले ही टीका लगवा चुकी हैं। उन्हीं को देख उन्होंने भी अस्पताल पहुंचकर टीका लगवाया। खास बात यह है कि इतनी उम्र होने के बाद भी गिरीश देवी रोज 6 से 8 घंटे नियमित रूप से हिंदी की धार्मिक किताबें पढ़ती हैं।

24 घंटे में मिले 472 नए केस, एक की मौत

सोमवार को 24 घंटे में 472 नए केस सामने आए। अब संक्रमितों का आंकड़ा 50718 तक पहुंच गया। जबकि ठीक होने वालों की संख्या 48054 तक पहुंच गई। इस दौरान एक मरीज की मौत भी हो गई। अभी तक मृतकों का आंकड़ा 427 तक पहुंच गया।

खबरें और भी हैं...