पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चोरी सामने आई:चोर गैंग के सदस्य ओएचई तार के 48 बैलेंस वेट ले गए, एक अरेस्ट

फरीदाबाद22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गैंग में 7 सदस्य शामिल, आरपीएफ टीमें फरार चल रहे 6 अन्य सदस्यों की कर रही हैं तलाश

फरीदाबाद-पलवल सेक्शन के बीच रेलवे में अलग प्रकार की चोरी सामने आई है। चोर ओएचई तार के 48 बैलेंस वेट ले गए। गनीमत रही कि इस दौरान मेन लाइन से कोई ट्रेन नहीं गुजरी। अन्यथा ओएचई तार ढीला होने से बड़ा हादसा हो सकता था।

हैरानी की बात यह है कि रेलवे ट्रैक पर गश्त करने वाले आरपीएफ कर्मियों को चोरी के बारे में भनक तक नहीं लगी। आरपीएफ टीम ने इस घटना में शामिल एक चोर को गिरफ्तार कर लिया है। उसके कब्जे से 38 बैलेंस वेट बरामद किए गए हैं। इस गैंग में शामिल छह चोर अभी फरार हैं।

रेलवे के अनुसार 20 मई की रात चोर बल्लगढ़-पलवल सेक्शन के बीच ओएचई तार को बैलेंस बनाने के लिए लगाए जाने वाले लोहे के 48 वेट ले गए। ये वेट मेन लाइन और लूप लाइन से चुराए गए। घटना की जानकारी होने पर आरपीएफ ने चोरों की तलाश शुरू की।

अधिकारियों ने एक टीम बनाई। इसमें करीब 60 से अधिक आरपीएफकर्मी लगाए गए। घटनास्थल के आसपास घरों में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की जांच के आधार पर आरपीएफ ने मुजेड़ी गांव निवासी शिवम नामक चोर को गिरफ्तार कर लिया। उसके कब्जे से 38 बैलेंस वेट बरामद किए गए।

आरपीएफ फरीदाबाद के इंस्पेक्टर उत्तम तोमर के अनुसार पूछताछ में गैंग में सात सदस्य शामिल होने की बात सामने आई है। फरार छह सदस्यों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है। पलवल के इंस्पेक्टर बलवंत सिंह का कहना है कि इस गिरोह ने अभी तक रेलवे के अलावा करीब 80 चोरी की वारदातें की हैं। लेकिन कभी पकड़े नहीं गए।

खबरें और भी हैं...