पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना मरीज को हार्टअटैक:कोरोना सेवा केंद्र में डाक्टरों ने बचाई जान,  28 दिन बाद ठीक होकर मरीज पहुंचा घर

फरीदाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल के वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. ‌ऋषि गुप्ता के अनुसार गुरुग्राम निवासी 52 वर्षीय मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल केवल 58 प्रतिशत रह गया था। - Dainik Bhaskar
अस्पताल के वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. ‌ऋषि गुप्ता के अनुसार गुरुग्राम निवासी 52 वर्षीय मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल केवल 58 प्रतिशत रह गया था।

सेक्टर-81 के डीपीएस में चल रहे कोरोना सेवा केंद्र में एकॉर्ड सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के डॉक्टरों ने कोरोना संक्रमित हार्ट अटैक के मरीज का सफल इलाज कर नया जीवन ‌दिया। सीमित ससाधनों के साथ चल रहे कोरोना सेवा केंद्र में अब तक करीब 200 मरीजों का सफल इलाज किया जा चुका है।

अस्पताल के वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. ‌ऋषि गुप्ता के अनुसार गुरुग्राम निवासी 52 वर्षीय मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल केवल 58 प्रतिशत रह गया था। यह बेहद चिंताजनक बात थी, क्योंकि मरीज का ऑक्सीजन लेवल लगातार कम हो रहा था। इस कारण मरीज को सांस लेने में काफी परेशानी हो रही थी। गुरुग्राम के किसी अस्पताल में बेड न मिलने पर उन्हें 29 अप्रैल को ग्रेटर फरीदाबाद के डीपीएस स्थित कोरोना सेवा केंद्र में भर्ती कराया गया था।

इलाज के दौरान छाती में दर्द की शिकायत पर जांच में पता चला कि मरीज को हार्टअटैक चल रहा है और बीमारी की गंभीरता को देखते हुए तुरंत दूसरे अस्पताल भेजने का निर्णय लिया गया, लेकिन कहीं भी बेड का इंतजाम न होने से मरीज को कोरोना सेवा केन्द्र में ही रखकर वरिष्ठ ह्दय रोग विशेषज्ञ डॉ. ऋषि गुप्ता की देखरेख में ह्दय रोग का इलाज शुरू किया गया। डॉ. युवराज कुमार के अनुसार करीब 28 दिन तक इलाज चलने के बाद मरीज अब पूरी तरह स्वस्थ है। अब वह कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुका है। इसलिए अस्पताल से उसे छुट्टी दे दी गई है।