सफर हुआ महंगा / डीजल के बढ़े रेट से यात्रियों का सफर हुआ महंगा, एक जुलाई से टोल रोड पर 3 से 20 रुपए देने पड़ेंगे अधिक

Due to the increased rate of diesel, the journey of passengers is expensive, from July 1, you will have to pay 3 to 20 rupees on the toll road.
X
Due to the increased rate of diesel, the journey of passengers is expensive, from July 1, you will have to pay 3 to 20 rupees on the toll road.

  • परिवहन मंत्री बोले नो प्रॉफिट नो लॉस पर चलाई जा रही रोडवेज की बसें

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 06:31 AM IST

फरीदाबाद. कोरोना के कारण बसों में यात्रियों की संख्या कम होने व लगातार बढ़ रहे डीजल के रेट को देखते हुए टोल रोड पर ( जिन रोड पर टोल टैक्स लगता है) हरियाणा रोडवेज से सफर करना अब महंगा हो जाएगा। एक जुलाई से यात्रियों पर तीन से अधिकतम 20 रुपए तक की बढ़ोतरी होगी। यानी टोल पर लगने वाला टैक्स सफर करने वाले यात्रियों से वसूला जाएगा। पहले भी टैक्स यात्रियों से वसूल किया जा रहा था लेकिन उस दौरान टोल टैक्स 52 यात्रियों में बंटता था। अब चूंकि बसों में कोरोना के चलते 30 से 35 यात्रियों के ही सफर करने की अनुमति है।

ऐसे में टोल टैक्स का बंटवारा इन 30-35 यात्रियों के बीच में ही होगा। बढ़े रेट को वसूलने के लिए सरकार की ओर से अधिसूचना जारी कर दी गई है । एक जुलाई से इसे लागू कर दिया जाएगा। प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने भी किराया बढ़ने की बात कही है।

 बस का लगने वाला टोल टैक्स यात्रियों से ही वसूल किया जाता है

रोडवेज अधिकारियों का कहना है कि जिन सड़कों पर टोल स्थित है वहां बस का लगने वाला टोल टैक्स यात्रियों से ही वसूल किया जाता है। ये पॉलिसी पहले से ही चली आ रही है। हरियाणा रोडवेज की एक बस में 52 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था है। ऐसे में लगने वाला टोल टैक्स इन 52 यात्रियों में ही बांट दिया जाता है। जैसे यदि कोई यात्री 15 किमी तक सफर करता है तो उसे और उसका किराया 15 रुपए है तो रास्ते में टोल पड़ने पर 15 रुपए के अलावा अभी तक 2 रुपए अतिरिक्त वसूला जाता है। यानी यात्री का किराया 17 रुपए बनता है। लेकिन अब यात्री को एक रुपए और चुकाने पड़ेंगे। यानी अब 2 के बजाय 3 रुपए देने पड़ेंगे।

इस प्रकार वसूला जाएगा टैक्स

किमी. दूरी    पहले टोल टैक्स    1 जुलाई से लगने 
        वाला टैक्स

  • 1 से 15 किमी.    2 रुपए    3 रुपए
  • 16 से 25 किमी.    3 रुपए    5 रुपए
  • 16 से 30 किमी.    4 रुपए    7 रुपए
  • 31 से 50 किमी.    5 रुपए    8 रुपए
  • 51 से 70 किमी.    6 रुपए    10 रुपए
  • 71 से 90 किमी.    7 रुपए    12 रुपए
  • 91 से 110 किमी.    8 रुपए    13 रुपए
  • 111 से 130 किमी.    9 रुपए    15 रुपए
  • 131 से 150 किमी.    10 रुपए    17 रुपए
  • 151 से 170 किमी.    11 रुपए    8 रुपए
  • 171 किमी. से ऊपर    12 रुपए    20 रुपए

तेल में बढ़ोतरी के कारण बढ़ाया जा रहा किराया| प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा का कहना है कि डीजल के बढ़ते रेट के कारण रोडवेज के किराए में मामूली बढ़ोतरी की जा रही है। उनका कहना है लॉकडाउन के कारण ड्राइवरों व कंडक्टरों की सैलरी के अलावा वर्कशाॅप में मेंटीनेंस समेत अन्य कर्मचारियों को वेतन भी देने हैं। ऐसे में सरकार ने मामूली बढ़ोतरी की है। इसके बावजूद राज्य सरकार रोडवेज को नो प्राॅफिट व नो लॉस पर चला रही है। मंत्री ने दावा किया कि हरियाणा रोडवेज का किराया पड़ोसी राज्य दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश और पंजाब से कम है। उन्होंने कहा कि पहले हम बसों में 52 यात्री बैठाते थे। अब 30-35 यात्रियों काे लेकर चल रहे हैं। ऐसे में टोल का किराया इन 30-35 यात्रियों से ही वसूला जाएगा।

इन रोड पर लगते हैं टैक्स: बल्लभगढ़ से मथुरा, आगरा, दिल्ली, गुड़गांव, सोहना, चंडीगढ़, सोनीपत, पानीपत समेत अन्य जिलों में जाने वाली रूटों पर कहीं एक तो कहीं दो टोल पड़ते हैं। विभाग का कहना है कि जिन सड़कों पर टोल लगता है उन्हीं रूट पर सफर करने वाले यात्रियों से ही टोल का किराया वसूला जाएगा। यदि कोई यात्री बल्लभगढ़ से पलवल अथवा हथीन जा रहा है तो उससे टोल टैक्स नहीं लिया जाता। क्याेंकि इन रूटों पर कोई टोल नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना