पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तोड़फोड़ का मामला:खोरी कॉलोनी मेें अब तक 2400 से अधिक मकान तोड़ दिए गए, 44 एकड़ जमीन हो चुकी खाली

फरीदाबाद8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ईद का अवकाश होने के कारण बुधवार काे कार्रवाई नहीं की गई। - Dainik Bhaskar
ईद का अवकाश होने के कारण बुधवार काे कार्रवाई नहीं की गई।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद खोरी कॉलोनी में शुरू हुई तोड़फोड़ की कार्रवाई से अब तक करीब 2400 मकानों को तोड़ दिया गया। इससे नगर निगम करीब 44 एकड़ जमीन खाली करा चुका है। बुधवार को ईद का अवकाश होने के कारण तोड़फोड़ की कार्रवाई नहीं हो सकी। लेकिन इस दाैरान वहां पड़े मलबे को हटाकर रास्ता बनाया गया और बोर्ड लगाए गए। वहीं दूसरी ओर पुनर्वास के लिए अभी तक महज 650 लोग ही आवेदन किए हैं। उधर निगम प्रशासन सुप्रीम कोर्ट में अभी तक स्ट्‌टेस रिपोर्ट भी दाखिल नहीं कर पाया है।

बता दें कि कोर्ट के आदेश पर नगर निगम करीब सवा महीने बााद ताेड़फोड़ की कार्रवाई 14 जुलाई से शुरू की गई। मंगलवार तक काॅलोनी में बने 2400 से अधिक मकान तोड़ दिए गए। निगम सूत्रों की मानें तो तोड़फोड़ के बाद अब तक खोरी में करीब 44 एकड़ जमीन खाली कराई जा चुकी है। निगम कमिश्नर डॉ. गरिमा मित्तल ने बताया कि बुधवार को ईद का अवकाश होने के कारण तोड़फोड़ नहीं की गई। लेकिन इस दौरान वहां जेसीबी से मलबा हटाकर रास्ता बनाया गया और नगर निगम के बोर्ड लगाए गए। उन्होंने ये भी बताया कि अब तक 650 से अधिक लोग पुनर्वास के लिए आवेदन कर चुके हैं।

निगम अभी तक नहीं सौंप पाया स्ट्‌टेस ​​​​​रिपोर्ट

निगम सूत्रों की मानें तो खोरी में तोड़फोड़ को लेकर 19 जुलाई तक नगर निगम को सुप्रीम कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट सबमिट करनी थी। लेकिन अभी तक रिपोर्ट सबमिट नहीं हो पायी है। बताया जा रहा है कि मंगलवार देररात तक डीए ब्रांच के अधिकारी रिपोर्ट तैयार करने में जुटे रहे। कमिश्नर डॉ. गरिमा मित्तल बताया कि रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। शुक्रवार को रिपोर्ट कोर्ट में सबमिट कर दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...