सख्ती का असर नहीं:दिवाली के दूसरे दिन भी खूब फूटे पटाखे, पुलिस ने दर्ज किए 13 मुकदमें, आरोपियों को भेजा जेल

फरीदाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदूषण के कारण पूरा शहर गैस चैंबर बना हुआ है। बावजूद लोग पटाखे फोड़ने से बाज नहीं आ रहे हैं। दिवाली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा की रात में भी पूरे शहर में जमकर आतिशबाजी हुई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 13 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि पटाखों को लेकर फरीदाबाद पुलिस दिवाली के दूसरे भी चौकस रही। सभी इलाकों में पीसीआर, राइडर और एसएचओ मोबाइल की सहायता से पटाखों के पूर्ण प्रतिबंध का एनाउंसमेंट कर सभी जगहों पर लोगों को सूचना दी गई। इसके बावजूद कुछ लोगों ने आदेश की अवहेलना कर पटाखे फोड़ते पकड़े गए। उन्होंने बताया कि पटाखे चलाने वालों के खिलाफ थाना ओल्ड फरीदाबाद में छः, थाना पल्ला, सेक्टर 8, सूरजकुंड सिटी बल्लबगढ़ एवं सेन्ट्रल में 1-1 मुकदमें दर्ज किए हैं। पटाखे बेचने वाले आरोपियों के खिलाफ थाना मुजेसर और सेक्टर-8 में 1-1 मुकदमा दर्ज है। दर्ज किए गए मुकदमों में 13 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। गिरफ्तार पटाखे बेचने वालों की पहचान नरेन्द्र और सुरेश संजय कॉलोनी, रामनगर फरीदाबाद के रूप में हुई। वहीं दूसरी ओर पटाखे चलाने वाले आरोपी सुशील, प्रशांत, रोहित, राहुल, मोहित, तरुण, प्रवीन, हुकुम सिंह, पंकज सिंह, मनीष, उत्कृष और कुलदीप के रूप में हुई। ये सभी फरीदाबाद के अलग-अलाग स्थानों के रहने वाले है। पिछले तीन दिन में पटाखे चलाने वाले और बेचने वालों के खिलाफ 75 मुकदमें दर्ज कर 81 को गिरफ्तार किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...