पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Faridabad
  • Haryana Government Should Request The Court In The Said Matter And Ask That People Should Be Removed From Here Only After Rehabilitation.

लक्कड़पुर खोरी गांव के मामले में कांग्रेस बोली:हरियाणा सरकार को कोर्ट से गुजारिश कर कहना चाहिए था कि पुनर्वास के बाद ही यहां से लोगों को हटाया जाए

फरीदाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद। कांग्रेस नेता विजय प्रताप सिंह। - Dainik Bhaskar
फरीदाबाद। कांग्रेस नेता विजय प्रताप सिंह।

अरावली वन क्षेत्र के लक्कड़पुर खोरी गांव में बने मकानों को 6 हफ्ते में खाली करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस ने कहा कि इसी कोर्ट की इसी बेंच ने 5 अप्रैल 2021 को पिटीशन नंबर 19148/2010 29-04-2016 पर सुनवाई में आदेश दिया है कि 2005 तक के सभी मामलों में पहले पुनर्वास दिया जाए। इसके बाद लोगों को वहां से हटाया जाए। इसलिए हरियाणा सरकार को उक्त निर्णय को देखते हुए कोर्ट से गुजारिश करना चाहिए था कि पुनर्वास के बाद ही लोगों को हटाया जाए।

हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री चौ. महेंद्र प्रताप सिंह के पुत्र एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय प्रताप सिंह ने मंगलवार को इस मामले में कहा कि हरियाणा सरकार को कोर्ट में इन गरीबों की पैरवी करते हुए यह कहना चाहिए था कि उनकी सरकार इन गरीबों के लिए पुनर्वास योजना के तहत मकान बनाने को तैयार है और इसके लिए समय सीमा भी तय करनी चाहिए थी। तब तक इन लोगों को न हटाया जाए। लेकिन हरियाणा सरकार ने ऐसा न कर यहां के हजारों गरीबों के जीवन से खिलवाड़ किया है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि कोरोना के कारण लोगों के काम धंधे ठप हैं। ऐसे में सरकार से ये लोग आर्थिक मदद की आस लगाए बैठे हैं। इस मामले में सरकार एवं सुप्रीम कोर्ट को मानवीय दृष्टिकोण अपनाना चाहिए था। कांग्रेस नेता ने कहा भाजपा नेता चुनाव के समय बड़े-बड़े वादे करते हैं। लेकिन मौका आने पर मुंह फेर लेते हैं। प्रधानमंत्री ने भी कहा है कि 2022 तक वे सभी गरीबों को मकान देंगे। लेकिन यहां उल्टा गरीबों के घर तोड़े जा रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि वह जल्द ही गांव के लोगों के साथ मिलकर खोरी गांव के लोगों के आशियानों को बचाने के लिए कोई रणनीति बनाएंगे।