पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोग की कार्रवाई:समय पर सूचना ना देना निगम एक्सईएन को पड़ा भारी, 20 हजार का जुर्माना

फरीदाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगम के जनसूचना अधिकारी एवं एक्सईएन पर 20 हजार का जुर्माना लगाया। - Dainik Bhaskar
निगम के जनसूचना अधिकारी एवं एक्सईएन पर 20 हजार का जुर्माना लगाया।

सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत वकील द्वारा मांगी गई जानकारी न देना नगर निगम के एक्सईएन को भारी पड़ गया। राज्य सूचना आयोग ने निगम के जनसूचना अधिकारी एवं एक्सईएन पर 20 हजार का जुर्माना लगाया। यह जानकारी बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन पाराशर ने दी।

उन्होंने बताया कि 16 अगस्त 2018 को भूमि की चकबंदी के संबंध मे नगर निगम से जानकारी मांगी थी। लेकिन नगर निगम जनसूचना अधिकारी संजीव गुप्ता ने जानकारी देने की बजाए मामले को टरकाते रहे। 29 अप्रैल 2019 को पाराशर ने जनसूचना अधिकारी के खिलाफ राज्य सूचना आयोग में अपील की। आयोग ने 15 मई 2019 को संबंधित जनसूचना अधिकारी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। नोटिस का जवाब न देने पर आयोग कई बार संबंधित अधिकारी पर सूचना देने का निर्देश देता रहा। आखिर में आयोग ने उक्त्त अधिकारी पर 20 हजार रुपए का जुर्माना लगाया और जुर्माने की राशि अधिकारी के वेतन से काटकर आयोग के पास जमा कराने का आदेश दिया। याचिकाकर्ता का आरोप है कि अभी तक संबंधित अधिकारी ने जुर्माना जमा नहीं कराया है।

खबरें और भी हैं...