अनलॉक / माॅल आज से फिर होंगे गुलजार, कोरोना से बचाव के लिए साफ-सफाई चाकचौबंद

X

  • सुबह 9 से रात 8 बजे खोलने की अनुमति, निगम की टीमें नियमित करेंगी निरीक्षण

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:55 AM IST

फरीदाबाद. लॉकडाउन के कारण 95 दिन से बंद जिले के शॉपिग मॉल बुधवार से फिर गुलजार होंगे। जिला प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद तैयारियां चाकचौबंद कर दी गई। मंगलवार को मॉल में साफ सफाई की गई और आने जाने वाले रास्तों के लिए रूटमैप तैयार किया गया। कोरोना से बचाव के लिए पूरे इंतजाम किए गए हैं!मॉल को सुबह नौ से रात आठ बजे खोलने की अनुमति दी गई है।  लेकिन शाॅपिंग मॉल में अभी सिनेमा हॉल, गेमिंग एरिया नहीं खुलेंगे। मॉल के अंदर रेस्तरां में फूड कोर्ट में एक समय में केवल 50 फीसदी की लोग बैठ पाएंगे।

नगर निगम और जिला प्रशासन की टीमें लगातार इनकी मॉनिटरिंग करेंगी। यदि कहीं गृह मंत्रालय की गाइड लाइन का उल्लंघन पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी। मंगलवार सुबह से ही सराय ख्वाजा स्थित क्राउन इंटीरियल, सेक्टर 15 क्राउन प्लाजा, सेक्टर 12 स्थित एसआरएस मॉल, सिल्वर सिटी मॉल, पाश्र्वनाथ, एनआईटी स्थित महेंद्र मौला, सेक्टर 31 स्थित प्रिङ्क्षटग मॉल, दिल्ली मथुरा रोड स्थित एल्डिको स्टेशन वन मॉल, डीएलएफ एरिया, सेक्टर 20 बी आदि में साफ सफाई का काम युद्धस्तर पर शुरू कर दिया गया। मॉल संचालक दिनभर साफ सफाई कराते रहे। कई दुकानदारों व शोरूम मालिकों ने दुकाने  खोलकर साफ सफाई की।

राज्य सरकार द्वारा निर्धारित की गई गाइड लाइन के अनुसार ही मॉल खोलने  की अनुमति दी गई है। गाइड लाइन के अनुसार मॉल संचालकों को कई सुरक्षा उपाय करने होंगे। मॉल में आने वालों को आरोग्य सेतु ऐप डाउन लोड करना अनिवार्य होगा। इसके अलावा मास्क लगाने के साथ ही दो गज दूरी का पालन करना होगा। मॉल में बुजुर्गों, 10 साल से कम उम्र के बच्चों और गर्भवती महिलाओं के आने पर पूरी तरह से रोक रहेगी। इसके अलावा पार्किंग में सेफ्टी के साथ गाडियों को पार्क कराया जाएगा। एक दूसरी गाडिय़ों के बीच प्रापर डिस्टेसिंग मेनटेन करनी हेागी। प्रवेश और निकासी के लिए अलग अलग गेट होंगे। गेट पर ही आगुंतकों की थर्मल स्क्रीनिंग करनी होगी। इसके अलावा लोगों को सेनिटाइज किया जाएगा।

अभी फिल्म देखने को नहीं मिलेगी

डीसी यशपाल यादव ने कहा कि सरकार के निर्देश पर मॉल  खोलने की अनुमति गाइडलाइन के अनुसार दी गई है लेकिन शॉपिंग मॉल में  अभी फिल्म नहीं दिखाई जा सकेगी। इसके अलावा बच्चों के मनोरंजन स्थल पर भी रोक रहेगी।

राहत की जगी है उम्मीद

सेक्टर 12 एसआरएस के सहायक जनरल मैनेजर सुशील जैन ने कहा कि तीन महीने से अधिक समय से वीरान हुए मॉल के खुलने से थोड़ी राहत की उम्मीद जगी है। लेकिन इसे बहुत खुशी नहीं कही का सकती। सबसे बड़ा चैलेंज है सिनेमा और फ्रूट कोर्ट। क्यांेकि शॉपिंग मॉल में वही लोग आएंगे जो सिनेमा देखकर मनोरंजन करना चाहते हैं। केवल खरीदारी के लिए बहुत कम लोग आना पंसद करेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना