पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

‘जागृति दिवस’ पर 20 को विश्व व्यापी प्रदर्शन:पेटेंट मुक्त कोविड-19 वैक्सीन और दवाओं के लिए फरीदाबाद में 15 स्थानों पर होगा प्रदर्शन

फरीदाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद। पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते स्वदेशी जागरण मंच उत्तर क्षेत्र के क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख सतेन्द्र सौरोत। - Dainik Bhaskar
फरीदाबाद। पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते स्वदेशी जागरण मंच उत्तर क्षेत्र के क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख सतेन्द्र सौरोत।

स्वदेशी जागरण मंच ने कोविड-19 वैक्सीन व दवाओं की सार्वभौमिक पहुंच को लेकर चलाए जा रहे अभियान के तहत 20 जून का दिन ‘पेटेंट मुक्त वैक्सीन और दवाओं’ के लिए ‘जागृति दिवस’ के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। ‘जागृति दिवस’ के उपलक्ष्य में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ता 20 जून को देशभर में सुबह 11 से 12 बजे के बीच संदेश पट्टिकाओं के साथ हरियाणा के 105 स्थानों पर प्रदर्शन करेंगे। फरीदाबाद में यह प्रदर्शन 15 स्थानों पर होगा।

स्वदेशी जागरण मंच चला रहा अभियान

स्वदेशी जागरण मंच उत्तर क्षेत्र के क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख सतेन्द्र सौरोत ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में कहा कि कोविड-19 वैक्सीन और दवाओं की सार्वभौमिक पहुंच को लेकर स्वदेशी जागरण मंच के आह्वान पर यह प्रदर्शन एक-साथ भारत सहित दुनियाभर के 2000 से अधिक स्थानों पर किया जा रहा है। फरीदाबाद में जिन स्थानों पर प्रदर्शन होगा उनमें बीके चौक, चावला कालोनी, घंटाघर चौक, अंबेडकर चौक बल्लभगढ़, प्याली चौक, संजय कालोनी, सेक्टर-55, एनआईटी-1 व 2, वाईएमसीए चौक, ओल्ड फरीदाबाद, सेक्टर-9 मार्केट, सेक्टर 15 बाजार, सराय ख्वाजा, तिगांव, नीमका और नवादा शामिल हैं।

हरियाणा से 80 हजार ने किए हस्ताक्षर

सौरोत ने कहा कि स्वदेशी जागरण मंच की ओर से कोविड-19 वैक्सीन व दवाओं की सार्वभौमिक पहुंच को लेकर चलाए जा रहे अभियान में अब तक दुनियाभर से 14 लाख से अधिक लोगों द्वारा याचिका पर डिजिटल हस्ताक्षर किए जा चुके है और यह संख्या लगातार बढ़ रही है। इस अभियान में हरियाणा से 80 हजार तथा फरीदाबाद से 10 हजार से अधिक लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं। उन्होंने कहा आज विश्व की अधिकांश जनसंख्या कोरोना के संक्रमण से भयभीत है। जबकि देखा गया है कि इस संक्रमण की रोकथाम का एकमात्र उपाय टीकाकरण है। जिस पर कुछ एक विकसित देशों का एकाधिकार है। इजराइल व अमेरिका जैसे देशों ने टीकाकरण से कोरोना के संकट को काबू कर लिया है। लेकिन विश्व की एक बड़ी जनसंख्या अभी भी टीकाकरण से वंचित है। कुछ कंपनियां पेटेंट से मुनाफा कमाने के लिए वैक्सीन व दवाओं के असीमित अधिकार देने के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने कहा विश्व और मानवता को बचाने कोविड-19 वैक्सीन और दवाओं की सार्वभौमिक पहुंच को लेकर जागरूकता लाने की आवश्यकता है। पत्रकार सम्मेलन में मंच के अन्य पदाधिकारियों में फरीदाबाद विभाग के सहसंयोजक कुणाल गोयल, संपर्क प्रमुख अमरदीप सिंह, जिला संयोजक राजेन्द्र शर्मा एडवोकेट, फरीदाबाद जिला संपर्क प्रमुख हुकुम सिंह, सहसंपर्क प्रमुख जितेन्द्र और सहसंयोजक पश्चिम धर्मवीर मौजूद थे।