पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा की पहल:वकीलों के लिए नहीं पर्याप्त बैठक व्यवस्था; हाईकोर्ट ने नगर निगम व जिला प्रशासन को वकीलों के लिए चैंबर बनाने के दिए आदेश

फरीदाबाद4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट कंस्ट्रक्शन कमेटी ने चैंबर बनाने के आदेश दिए है। - Dainik Bhaskar
पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट कंस्ट्रक्शन कमेटी ने चैंबर बनाने के आदेश दिए है।

हाईकोर्ट ने नगर निगम व जिला प्रशासन को वकीलों के लिए चैंबर बनाने के आदेश दिए है। सेक्टर 12 कोर्ट परिसर में वकीलों के चैंबर की समस्या को देखते हुए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट कंस्ट्रक्शन कमेटी के चेयरमैन जस्टिस अजय तिवारी ने फरीदाबाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश वाईएस राठौर, डीसी यशपाल यादव, नगर निगम के चीफ इंजीनियर रामजीलाल, फरीदाबाद बार एसोसिएशन के प्रधान बॉबी रावत, महासचिव नरेंद्र शर्मा के साथ वर्चुवल मीटिंग की। जिसमें के वकीलों के लिए नए चैंबर व मल्टीपल पार्किंग के विषय पर चर्चा की गई।

बैठक में बताया कि फरीदाबाद में करीब 3000 वकील प्रैक्टिस करते हैं। लेकिन केवल 700 चैंबर ही बने हुए हैं। बाकी वकीलों के लिए बैठने की कोई उचित व्यवस्था नहीं है, जहां पर वह अपना काम सुचारू रूप से कर सकें। मीटिंग के दौरान बिल्डिंग कमेटी के चेयरमैन जस्टिस अजय तिवारी ने कहा कि न्यायिक परिसर में एक नई बिल्डिंग का निर्माण कार्य होना है, जो कि बचत भवन को तोड़कर बनाई जानी है। इसके लिए वकीलों की सीटों को भी हटाया जाना है। उन्होंने कहा कि नई बिल्डिंग के निर्माण के दौरान जिन वकीलों की सीटों को हटाया जाएगा उसके पहले उचित स्थान पर उनके लिए कंस्ट्रक्शन कमेटी या प्रशासन की तरफ से नई सीटें बनाई जाए। उसके बाद ही उनकी सीटों को तोड़ा जा सकता है। जस्टिस ने डीसी व नगर निगम के चीफ इंजीनियर को इस बारे में अगली मीटिंग में रिपोर्ट करने का आदेश दिया है।

टीनशेड में बैठते हैं अधिकांश वकील

बार के महासचिव एडवोकेट नरेंद्र शर्मा ने बताया कि कोर्ट में प्रेक्टिस करने वाले अधिकांश वकीलों के पास बैठने के लिए अलग से कोई चैंबर नहीं है। ऐसे में वकील कोर्ट के सामने बने टीनशेड में ही तखत लगाकर बैठकर किसी तरह काम चलाते हैं। उन्हाेंने बताया कि फरीदाबाद प्रदेश का सबसे बड़ा बार एसोसिएशन है। औद्योगिक नगरी होने के बावजूद यहां वकीलों के पर्याप्त बैठने तक की व्यवस्था नहीं है। इस बारे में पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट को अवगत कराया गया था। उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में हाईकोर्ट यहां के वकीलों के लिए चैंबर का निर्माण कराएगा।