यात्रियों को राहत / 57 दिन बाद खुले रेलवे आरक्षण केंद्र, पहले दिन 300 से ज्यादा ने कराया रिजर्वेशन

ओल्ड रेलवे स्टेशन के आरक्षण केंद्र पर टिकट कराने वालों की लगी भीड़। ओल्ड रेलवे स्टेशन के आरक्षण केंद्र पर टिकट कराने वालों की लगी भीड़।
X
ओल्ड रेलवे स्टेशन के आरक्षण केंद्र पर टिकट कराने वालों की लगी भीड़।ओल्ड रेलवे स्टेशन के आरक्षण केंद्र पर टिकट कराने वालों की लगी भीड़।

  • सुबह 7 बजे से ही आरक्षण केंद्र पर लग गई लाइन, 17 जून तक सभी स्पेशल ट्रेन फुल
  • बल्लभगढ़ में आरक्षण केंद्र का लिंक खराब होने से लोगों को हुई परेशानी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

फरीदाबाद. कोरोना संक्रमण के चलते 57 दिन बाद शुक्रवार को रेलवे आरक्षण केंद्र खोले गए। पहले दिन बिहार और पूर्वाेत्तर राज्यों की ओर जाने वाले 300 से अधिक लोगों ने आरक्षण कराया। गुरुवार देर रात जैसे ही आरक्षण केंद्र से टिकट बुक कराने की घोषणा रेलवे ने की शुक्रवार सुबह 7 बजे से ही लोग ओल्ड फरीदाबाद, बल्लभगढ़ और पलवल स्टेशन पर टिकट कराने के लिए दौड़ पड़े।

इस दौरान आरपीएफ कर्मियों को भी मशक्कत करनी पड़ी। आरक्षण केंद्र पर आने वाले यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए लाइन में लगाया गया। इससे एक-एक कर लोग टिकट कराते रहे। सबसे अधिक भीड़ बिहार और पूर्वोत्तर राज्यों की ओर जाने वाली ट्रेनों के लिए है। रेलवे अधिकारियों की मानें तो 17 जून तक अधिकांश ट्रेनों में सीटें फुल हो चुकी हैं। रेलवे ने अभी 21 जून तक ही रिजर्वेशन खोला है।
सुबह 7 बजे ही काउंटर पर पहुंच गए रेलकर्मी
करीब दो महीने बाद अचानक आरक्षण केंद्र खोलने का फरमान आते ही रेलकर्मियों के पसीने छूट गए। क्योंकि दो महीने से सारा सिस्टम बंद पड़ा था। उसे फिर से अपडेट करने के लिए रेल कर्मचारी सुबह सात बजे ही काउंटर पर पहुंच गए और सारे सिस्टम को अपडेट किया। फरीदाबाद में दो और पलवल में एक काउंटर खोला गया। समय से पहले ही आरक्षण केंद्रों पर भीड़ जमा हो गई थी। सुबह आठ बजे जैसे ही काउंटर खोला गया, आरपीएफ कर्मियों ने एक-एक कर सोशल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करते हुए लोगांे को अंदर भेजा। 
फरीदाबाद-पलवल में 300 लोगों ने कराया टिकट
ओल्ड फरीदाबाद और पलवल रेलवे स्टेशन के टिकट काउंटर से सुबह आठ से रात आठ बजे तक 300 से अधिक लोगों ने टिकट बुक कराया। इनमें ज्यादातर बिहार और पूर्वोत्तर के राज्य आसाम और यूपी के वाराणसी, गाजीपुर आदि के लिए टिकट हुए हैं। ये टिकट उन ट्रेनों के लिए हुए हैं जो रेलवे ने 200 स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की है। रेलवे अधिकारियों की मानें तो पलवल में करीब 115 और फरीदाबाद में 200 से अधिक लोगों ने आरक्षण कराया।
बल्लभगढ़ काउंटर रहा बंद, लोग हुए परेशान

बल्लभगढ़ रेलवे आरक्षण केंद्र पर शुक्रवार सुबह से ही 100 से अधिक लोगांे की भीड़ लगी रही लेकिन किसी का टिकट नहीं हो पाया। आखिर में उन्हें निराश होकर घर लौटना पड़ा। रेलवे के अनुसार यहां सिस्टम चालू नहीं हो पाया। दिल्ली से कनेक्ट लिंक फेल हो गया था। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना