महिलाओं से धोखाधड़ी:क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मी बनकर दो महिलाओं से सोने की चूड़ियां व गहने उतरवा ले गए बदमाश

फरीदाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित महिलाओं ने दर्ज कराया केस। - Dainik Bhaskar
पीड़ित महिलाओं ने दर्ज कराया केस।

पुलिसकर्मी बनकर महिलाओं से गहने ठगने वाला गिरोह एक बार फिर सक्रिय हो गया है। उक्त ठगों ने इनकम टैक्स विभाग के एक रिटायर्ड उच्चाधिकारी की पत्नी समेत दो महिलाओं से सोने की चूड़ियां समेत अन्य गहने उतरवा लेकर फरार हो गए। महिलाओं ने केस दर्ज कराया है। लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लगा है।

सेक्टर 14 निवासी बुद्धिराज कौशिक की पत्नी गायत्री कौशिक (72) ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि वह शुक्रवार सुबह करीब नौ बजे पति के साथ गीता मंदिर सेक्टर 15 में दर्शन कर अपने घर जा रही थी। मदिंर के पास के पार्क को पार करने के बाद एक व्यक्ति ने आवाज देकर बुलाया। दो लोग मोटर साइकिल पर पार्क के कोने के दोनों तरफ खडे़ थे। युवक ने कोरोना चेकिंग के बहाने अपने को क्राइम ब्रांच का सब इंस्पेक्टर बताया और पास बुलाया। एक आदमी ने मेरे पति को बातों में लगा लिया। जबकि दूसरे आदमी ने पहले थर्मल चेकिंग की फिर मुझे मेरी चूड़ियां और चेन निकालकर बैग मे रखने के लिए कहा। रखने में मदद करने के बहाने उसने एक सोने की चैन और छह सोने की चूडियां कागज मे रखकर बदल दी। जब तक पीड़िता कुछ समझ पाती उक्त ठग गहने लेकर बाइक से फरार हो गए। पीड़िता के पति इनकम टैक्स में उच्च पद से रिटायर्ड हैं।

अरदाश करने जा रही महिला काे बनाया शिकार

सेक्टर 10 डीएलएफ निवासी दर्शन अरोडा़ पत्नी मदन लाल अरोड़ा शुक्रवार सुबह 8 बजे करीब रोजाना की तरह में सेक्टर सात गुरुदवारा साहब में अरदाश करने का करने जा रही थी। महिला जैसे ही 10-11 डिवाइडिंगा रोड लाल मन्दिर के पास पहुंची तो मुझे दो लडके मिलें। उन्होंने खुद को पुलिसवाला बताया। कहा कि हमारी शादी वर्दी में ड्यूटी लगी है। कहने लगे की माता आपने सोने की चूड़ियां क्यों पहनी है। आपको पता नहीं रोज छीना झपटी हो रही है। यह चूड़ी उतारो। इस कागज में रख दो। बदमाशों ने असली चूड़ियां लेकर कागज में नकली चूड़ी देकर फरार हो गए। महिलाओं की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।