विकास को लेकर चर्चा:केंद्रीय राज्यमंत्री ने शहर का विकास मास्टर प्लान 2041 प्लानिंग के तहत करने का अफसरों को दिया आदेश

फरीदाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों के साथ बैठक करते केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर - Dainik Bhaskar
अधिकारियों के साथ बैठक करते केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए ) की बैठक ली। जिसमें सभी विभागों को एक सामुहिक विकास योजना के साथ विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का आदेश दिया। ताकि शहर की यातायात योजना, पेयजल आपूर्ति, सीवरेज, बिजली, ड्रेनेज सहित सभी बुनियादी सुविधाओं का लाभ जनता को मिल सके। मंत्री यहां सेक्टर- 69 आईएमटी बिल्डिंग एचएसआईडी कॉम्प्लेक्स में

एफएमडीए की मीटिंग मे सम्बंधित विभागों के अधिकारियों केसाथ बैठक कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकार शहर में बेहतर बुनियादी ढांचा तैयार करने के लिए कार्य कर रही है। इसके लिये हमें शहर में जनसंख्या के आधार पर यातायात व्वस्था हेतु सडक़ें, पार्क, बेहतर बिजली आपूर्ति व्यवस्था, पेयजल सप्लाई व्यवस्था, सीवरेज व्यवस्था, बरसाती पानी निकासी व्यवस्था सहित उन सभी जरूरतों को पूरा करना है, जिनकी फरीदाबाद महानगर के लोगों को आवश्यकता है। केंद्रीय राज्य मंत्री ने वर्ष 2041 मास्टर प्लान के आधार पर फरीदाबाद में ढांचागत विकास और समन्वय के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर बैठक में उपस्थित अधिकारियों को एफएमडी से जुड़े विकास, नवीकरण जल आपूर्ति प्रणाली, पेचवर्क, जल आपूर्ति, सीवरेज का विस्तृत अनुमान, ट्यूबल, टेंडर ,बिजली आपूर्ति, मास्टर रोड, बड़खल झील उपचार, बड़खल झील परियोजना , अंडरपास विनियमन के लिए जल निकासी सुधार , कार्य व्हीकल, काउंटिंग ऐप , ऑप्टिकल फाइबर, डिजास्टर रिकवरी, हाई राइज रेस्क्यू के लिए हाइड्रोलिक, एरियल लेदर प्लेटफॉर्म और पर्यावरण मानकों में सुधार के लिए फायर फाइटिंग, स्मार्ट हाइब्रिड लाइटनिंग, पैन सिटी आईसीटी वर्क्स, डॉग शेल्टर ,हेल्थ ट्रेलर मशीन, आदर्श नगर,स्लम पुनर्विकास, बुनियादी ढांचा , विकास योजना, जल आपूर्ति और सीवरेज प्रणाली माइक्रो एसटीपी, एसटीपी ,ई शौचालय, स्ट्रीट लाइट जैसे विभिन्न विषय मुद्दों पर उपस्थित अधिकारी से चर्चा की। इस अवसर पर विधायक सीमा त्रिखा , नरेंद्र गुप्ता , राजेश नागर, नीरज शर्मा, नैनपाल रावत , एफएमडी के सीईओ सुधीर राजपाल, एडिशनल सीईओ डॉ गरिमा मित्तल, डीसी जितेंद्र यादव

एमसीएफ कमिश्नर यशपाल यादव सहित सम्बंधित विभागों के सभी अधिकारी उपस्थित थे।