योजना पर लगा ग्रहण:निजी एजेंसी द्वारा तय किए गए सभी वेंडिंग जोन को निगम कमिश्नर ने किया कैंसिल, बोले- भीड़भाड़ वाले इलाके में होने से लगेगा जाम

फरीदाबाद22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एजेंसी को 15 अक्टूबर तक नई जोन चिन्हित करने का आदेश दिया है। - Dainik Bhaskar
एजेंसी को 15 अक्टूबर तक नई जोन चिन्हित करने का आदेश दिया है।

सड़कों के किनारे रेहड़ी पटरी लगाने वाले दुकानदारों को एक निश्चित स्थान चिन्हित कर वहां बैठाने की योजना परवान नहीं चढ़ पा रही है। निजी एजेंसी द्वारा तय किए गए सभी नौ जोन को निगम कमिश्नर यशपाल यादव ने कैंसिल कर दिया है। क्योंकि जिन स्थानों को चिन्हित किया गया था वह पहले से ही अधिक भीड़भाड़ वाले हैं। ऐसे में वहां ट्रैफिक जाम होने की संभावना बनी रहेगी। निगम कमिश्नर ने एजेंसी केा 15 अक्टूबर तक का समय देते हुए नए सिरे से जोन चिन्हित करने का आदेश दिया है। उनका कहना है कि जोन ऐसे स्थान पर बनाए जाएं जहां ट्रैफिक जाम की समस्या न हो और लोगों की पहुंच भी आसान हो।

मंगलवार को निगम कमिश्नर यशपाल यादव ने बैठक ली थी। बैठक में एजेंसी के पदाधिकारियों ने वेंडिंग जोन की जानकारी दी। कमिश्नर ने सभी वेंडिंग जोन को कैंसिल कर दिया। उनका कहना था कि जो भी वेंडिंग जोन चिन्हित किए गए हैं वह सभी भीड़ वाले इलाके में है। वहां पहले से ही दुकानें लगती हैं। ऐसे में वेंडिंग जोन बनाने से जाम की स्थिति पैदा हो जाएगी। इसलिए वेंडिंग जोन वहां बनाया जाए जहां भीड़भाड़ कम हो, लोगों की पहुंच आसान हो और जाम की समस्या न पैदा हो सके। कमिश्नर ने कहा कि प्रशासन का मकसद शहर को व्यवस्थित ढंग से चलाना है। कहीं ऐसा न हो कि वेंडिंग जोन बनने से ट्रैफिक व्यवस्था चौपट हो जाए।

पहले यहां चिन्हित की गई थी जगह

शहरी परियोजना अधिकारी द्वारिका प्रसाद ने बताया कि पहले चरण में एनआईटी क्षेत्र में वेंडर जोन बनाना है। इसके लिए निगम नौ वेंडिंग जोन फावड़ा चौक, बाटा फ्लाईओवर, नीलम सिनेमा चौक, प्याली चौक, आयुक्त कैंप आफिस के पास, चिमनीबाई चौक के पास, केसी चौक,गर्वमेंट गल्र्स कालेज व डीएवी कालेज काे फाइनल किया है। इससे करीब 200-300 को फायदा होगा। उन्होंने बताया कि योजना के अनुसार अभी तक करीब 5300 वेंडरों को पंजीकृत किया गया है। उन्हांेने बताया कि अब नए सिरे से नए वेंडिंग जोन चिन्हित कराए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...