पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निजी अस्पतालों पर शिकंजा:अधिक पैसे लेने की शिकायतों की जांच के लिए कमेटी गठित, रोज शाम को डीसी को देगी रिपोर्ट

पलवल24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पलवल के तीन निजी अस्पताल संचालकों के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद डीसी नरेश नरवाल ने यह कदम उठाया है। - Dainik Bhaskar
पलवल के तीन निजी अस्पताल संचालकों के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद डीसी नरेश नरवाल ने यह कदम उठाया है।

जिले के निजी अस्पतालों की ओर से इलाज के अधिक पैसे लेने की शिकायतों को देखने के लिए डीसी ने एक जिलास्तरीय कमेटी का गठन किया है। इसमें प्रशासनिक अधिकारी व डाक्टर शामिल किए गए हैं। यह समिति समय-समय पर निजी अस्पतालों के बिलों की जांच करेगी।

हाल ही में एक मरीज से इलाज के अधिक पैसे लेने के मामले में पलवल के तीन निजी अस्पताल संचालकों के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद डीसी नरेश नरवाल ने यह कदम उठाया है। गठित कमेटी में सेल्स टैक्स के डीईटीसी धर्मबीर दहिया, जिला अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीप किशोर व आईएमए के अध्यक्ष डॉ. अनिल मलिक को सदस्य बनाया गया है।

कमेटी यह सुनिश्चित करेगी कि कोई भी निजी अस्पताल एम्बुलेंस सेवा के लिए शुल्क सहित कोविड रोगियों के उपचार, परीक्षण और विभिन्न जांच हेतु राज्य सरकार की ओर से निर्धारित राशि से अधिक न लें। टीम को वास्तविक स्थिति जानने व निजी अस्पतालों की ओर से अपनाई जा रही कार्यप्रणाली का पता लगाने के लिए कोविड रोगियों के परिजनों से मिलने के लिए भी कहा गया है। यह समिति रोज सायं पांच बजे तक डीसी दफ्तर को रिपोर्ट देगी।