स्टार्ट अप इंडिया:किशोर अवस्था में आई त्वचा की समस्याओं से जूझने के बाद आईटी इंजीनियर ने तैयार किया फैबयू

गुड़गांव3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंकित खेमका और भावना खेमका - Dainik Bhaskar
अंकित खेमका और भावना खेमका
  • स्टार्ट अप इंडिया द्वारा मान्यता प्राप्त किशोरों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित माना गया

त्वचा की देखभाल एक ऐसा संवेदनशील विषय है जिससे आज की युवा पीढ़ी भी इसके प्रति जिज्ञासु रहती है। हजारों लोगों को त्वचा से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं। जिनका उपचार करना आसान नहीं होता। खासकर सर्दियों में सबसे अधिक त्वचा रोग होते हैं। वैसे तो स्किन केयर के नाम पर काफी महंगे ब्रांड बाजार में उपलब्ध हैं, लेकिन एक आईटी इंजीनियर अंकित खेमका ने इसका सस्ता विकल्प तैयार किया गया है।

खेमका किशोर अवस्था में त्वचा से जुड़ी समस्याओं से जूझते रहे तो उन्हें त्वचा से जुड़ी दवा बनाने का विचार आया। उन्होंने अपने ब्रांड का नाम फैबयू दिया, जिसमें उन्होंने एक फार्मेसी स्टूडेंट भावना खेमका का भी सहयोग लिया। व्यक्तिगत त्वचा देखभाल कंपनी के अपने रॉक-सॉलिड आइडिया के लिए वे एक साथ आए। यह स्टार्ट अप इंडिया द्वारा मान्यता प्राप्त किशोरों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित माना गया है। इसमें कोई भी कैमिकल का प्रयोग नहीं किया गया है।